रूस-यूक्रेन युद्ध: यूक्रेनी कस्बों के अधिकारियों को मौके पर ही लुटेरों को गोली मारने का अधिकार मिला

February 28th, 2022

हाईलाइट

  • स्टोर मालिकों द्वारा खाद्य वस्तुओं की कीमतें बढ़ाए जाने को भी लूट माना जाएगा

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। यूक्रेन के दो शहरों में कानून प्रवर्तन अधिकारियों को मौके पर ही लुटेरों को गोली मारने के लिए अधिकृत किया गया है। आरटी ने बताया कि महापौरों ने यह घोषणा की।

रूस के सैन्य अभियान की शुरुआत के बाद से देशभर में लूटपाट की महत्वपूर्ण घटनाओं की सूचना मिली है।

आरटी के मुताबिक, जाइटॉमिर के मेयर सर्गेई सुखोमलिन ने एक फेसबुक वीडियो संबोधन में शहर के एक क्षेत्र में एक स्टोर में लूट के प्रयास का जिक्र किया।

सुखोमलिन ने कहा, मैं सभी को चेतावनी दे रहा हूं : पुलिस, नेशनल गार्ड, क्षेत्रीय रक्षा इकाइयां - उन सभी को हिरासत में नहीं लेने का आदेश मिला है, वे मौके पर ही गोली मार सकते हैं। शहर में कोई लूटपाट नहीं होगी।

ओख्तिरका क्षेत्रीय समुदाय के प्रमुख पावेल कुज्मेंको ने भी इसी तरह की चेतावनी जारी की थी। उन्होंने लोगों से किसी भी संदिग्ध घटना की तुरंत रिपोर्ट करने की अपील की।

कुज्मेंको ने अपने फेसबुक वीडियो में कहा, लूट का नतीजा होगा मौके पर ही गोली मारना।

उन्होंने यह भी रेखांकित किया कि स्टोर मालिकों द्वारा खाद्य वस्तुओं की कीमतें बढ़ाए जाने को भी लूट माना जाएगा।

आरटी के मुताबिक, उन्होंने कहा कि चेचन्या के नेता रमजान कादिरोव का कहना है कि यूक्रेन में रूस के सशस्त्र बलों को सहायता की पेशकश करने के लिए चेचन्या के हजारों पुरुष को तैयार किया जा रहा है।

सोशल मीडिया पर कुछ क्लिप और तस्वीरें कथित तौर पर यूक्रेन के शहरों में लूट के संदिग्धों को जनता डंडे लेकर खदेड़ते हुए दिखती है। अन्य सोशल मीडिया चैनल ऐसे वीडियो पोस्ट करते हैं, जिनके बारे में उनका दावा है कि वे रूसी कब्जाधारियों द्वारा की जा रही डकैती के दृश्य दिखाते हैं।

अपने सशस्त्र बलों को मजबूत करने के लिए अन्य उपायों के अलावा, यूक्रेनी अधिकारियों ने सैन्य पृष्ठभूमि वाले कैदियों और आपराधिक संदिग्धों को रिहा करने का फैसला किया।

(आईएएनएस)

खबरें और भी हैं...