दैनिक भास्कर हिंदी: तिब्बत के विशेष शिक्षा में कृत्रिम बुद्धि तकनीक का इस्तेमाल

October 17th, 2019

हाईलाइट

  • तिब्बत के विशेष शिक्षा में कृत्रिम बुद्धि तकनीक का इस्तेमाल

बीजिंग, 17 अक्टूबर (आईएएनएस)। तिब्बत के विशेष शिक्षा में कृत्रिम बुद्धि तकनीक का इस्तेमाल किया जा रहा है। ल्हासा शहर में स्थित इस विशेष शिक्षा स्कूल में 224 छात्र अध्ययन कर रहे हैं, जिनमें 52 नेत्रहीन छात्र हैं।

चीन की बाईडू कंपनी ने इन छात्रों के जीवन में सुधार लाने के लिए एआई लाइब्रेरी और एआई छात्रावास उपलब्ध करवाया है। नेत्रहीन छात्रों की शिक्षा में कुछ विशेष कठिनाइयां मौजूद हैं। इस तकनीक से छात्रों को एआई तकनीकी उपकरणों से चीनी इतिहास, भौतिक विज्ञान और दूसरी सांस्कृतिक जानकारियां प्राप्त हो सकती हैं। एआई छात्रावास के जरिये इन छात्रों को जीवन की सुविधाएं मिल रही हैं। उधर, श्रवण बाधित छात्र और अन्य विकलांग छात्र भी एआई लाइब्रेरी के माध्यम से आसानी से पढ़ सकते हैं।

इस स्कूल के कुलपति यूनदन पींगछो ने कहा कि नेत्रहीन छात्रों का भी अपना-अपना सपना है। उनका भी नये युग के साथ-साथ विकास होना चाहिए। एआई तकनीक के इस्तेमाल से विकलांग छात्रों को भी वैज्ञानिक माध्यम से सुखमय जीवन प्राप्त हो सकता है।

(साभार---चाइना रेडियो इंटरनेशनल, पेइचिंग)

-- आईएएनएस

खबरें और भी हैं...