दैनिक भास्कर हिंदी: जम्मू-कश्मीर नेशनल हाइवे बंद होने के कारण रोकनी पड़ी अमरनाथ यात्रा

July 31st, 2019

हाईलाइट

  • तीन लाख 30 हजार यात्री अब तक कर चुके हैं यात्रा
  • राज्यपाल के आदेश पर 60 वर्षीय महिला को हेलीकॉप्टर से कराई यात्रा
  • मंगलवार को 10,360 यात्रियों के किए दर्शन

जम्मू, आईएएनएस। जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग बाधित होने के कारण बुधवार को अमरनाथ यात्रा रद्द कर दी गई, पिछले 30 दिनों में लगभग 3.30 लाख श्रद्धालुओं ने अमरनाथ यात्रा कर चुके हैं। पुलिस ने कहा कि जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर अवरोध होने के कारण भगवती नगर यात्री निवास से बुधवार को किसी श्रद्धालु को यात्रा के लिए अनुमति नहीं दी गई।

श्री अमरनाथजी श्राइन बोर्ड (एसएएसबी) के अधिकारियों ने कहा कि एक जुलाई से यात्रा शुरू होने के बाद से अब तक 3,31,770 यात्री पवित्र शिवलिंग के दर्शन कर चुके हैं। मंगलवार को 10,360 यात्रियों ने दर्शन किए थे। एसएएसबी के अधिकारियों ने कहा, राजस्थान के गंगानगर की रहने वाली गंभीर रूप से बीमार 60 वर्षीय ऊषा को मंगलवार को राज्यपाल सत्यपाल मलिक के निर्देश पर हेलीकॉप्टर के माध्यम से शेषनाग से श्रीनगर ले जाया गया। श्राइन बोर्ड ने अब तक गंभीर रूप से बीमार सभी 16 तीर्थयात्रियों को उचित इलाज के लिए वायुमार्ग से सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया है।

आपको बता दें कि कश्मीर में समुद्र तल से 3,888 मीटर ऊपर स्थित अमरनाथ गुफा में बर्फ की विशाल संरचना बनती है, जो भगवान शिव की पौराणिक शक्तियों की प्रतीक है। एसएएसबी के अधिकारियों के अनुसार, यात्रा के दौरान 26 श्रद्धालुओं की मौत हो चुकी है। इसके अलावा दो स्वयंसेवियों और दो सुरक्षाकर्मियों की भी मौत हो चुकी है। इस साल 17 जुलाई को शुरू हुई 45 दिवसीय अमरनाथ यात्रा का समापन 15 अगस्त को श्रावण पूर्णिमा के साथ होगा।