comScore

उप्र : शहीद स्मारक निर्माण के लिए गांधीगिरी

October 02nd, 2019 21:00 IST
 उप्र : शहीद स्मारक निर्माण के लिए गांधीगिरी

महोबा, 2 अक्टूबर (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के महोबा जिला मुख्यालय के हवेली दरवाजा में शहीद स्मारक के निर्माण की मांग को लेकर सामाजिक कार्यकर्ता तारा पाटकर ने बुधवार को महात्मा गांधी की वेशभूषा में अन्न-जल त्याग सत्याग्रह शुरू कर दिया। इसी स्थान पर 1857 के प्रथम स्वतंत्रता संग्राम में ब्रिटिश हुकूमत ने 16 क्रांतिकारियों को फांसी पर लटका दिया था।

पिछले 462 दिनों से बुंदेलखंड को अलग राज्य के दर्जे की मांग को लेकर क्रमिक अनशन चला रहे बुंदेली समाज के संयोजक तारा पाटकर ने महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर हवेली दरवाजा के मैदान में शहीद स्मारक के निर्माण की मांग को लेकर बिल्कुल महात्मा गांधी के पोशाक में अन्न-जल त्याग कर भूख हड़ताल शुरू कर दी।

हालांकि नगर पालिका परिषद द्वारा उन्हें एक पत्र देकर कहा गया है कि स्मारक निर्माण का टेंडर दे दिया गया है और सिर्फ भूखंड की नाप किया जाना शेष है। तत्काल निर्माण कार्य शुरू कर दिया जाएगा। लेकिन, पाटकर ने इस कथित टेंडर पर सवाल उठाते हुए कहा कि बिना भूखंड नाप के टेंडर दिया जाना गले नहीं उतर रहा, यह सिर्फ गुमराह करने की कोशिश है।

तारा पाटकर ने बताया, 1857 के प्रथम स्वतंत्रता संग्राम के दौरान ब्रिटिश हुकूमत के अधिकारियों ने इसी स्थान पर 16 सेनानियों को फांसी पर लटका दिया था। हर सरकारी, गैर सरकारी शुभ कार्य इसी स्थान से शुरू किए जाते हैं, फिर भी यहां नगर का कूड़ा फेंका जा रहा है, जो शहीद सेनानियों का अपमान है।

उन्होंने बताया, पिछले साल शहीद स्मारक के निर्माण की शुरुआत की गई थी, लेकिन वर्ग विशेष के व्यक्ति द्वारा मालिकाना दावा ठोंकने पर रुक गया था। अब किसी अदालत में विवाद भी नहीं चल रहा है।

पाटकर ने कहा कि गांधीजी की 150वीं जयंती के अवसर पर गांधीवादी तरीके से सत्याग्रह शुरू किया गया है, जो निर्माण शुरू होने तक जारी रहेगा।

-- आईएएनएस

कमेंट करें
YRKdU