comScore

रेलवे ने 20 लाख से अधिक फंसे हुए प्रवासी श्रमिकों को निकाला : पीयूष

May 19th, 2020 18:00 IST
 रेलवे ने 20 लाख से अधिक फंसे हुए प्रवासी श्रमिकों को निकाला : पीयूष

हाईलाइट

  • रेलवे ने 20 लाख से अधिक फंसे हुए प्रवासी श्रमिकों को निकाला : पीयूष

नई दिल्ली, 19 मई (आईएएनएस)। रेल एवं वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल ने मंगलवार को कहा कि भारतीय रेलवे ने एक मई से 1,565 विशेष श्रमिक ट्रेनों के माध्यम से 20 लाख से अधिक फंसे हुए प्रवासी श्रमिकों को उनके गंतव्य तक पहुंचाया है।

गोयल ने एक ट्वीट में कहा, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में रेलवे द्वारा 20 लाख से अधिक कामगारों को 1,565 श्रमिक स्पेशल ट्रेनों का संचालन कर उनके घर भेजा जा चुका है। अकेले उत्तर प्रदेश 837, बिहार 428 और मध्यप्रदेश 100 से अधिक ट्रेनों की अनुमति दे चुके हैं।

गोयल ने सोमवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से भी बात की थी। आदित्यनाथ के साथ रेलमंत्री की टेलीफोन पर हुई बातचीत के दौरान देश के कई हिस्सों में फंसे हुए प्रवासी कामगारों के परिवहन के लिए श्रमिक स्पेशल ट्रेनों की संख्या को दोगुना करने पर चर्चा हुई। इसके अलावा नीतीश कुमार के साथ हुई बातचीत में भी फंसे हुए प्रवासी कामगारों को उनके घरों तक पहुंचाने के लिए प्रतिदिन 50 श्रमिक स्पेशल ट्रेनों के संचालन पर चर्चा हुई।

रेल मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि पिछले कुछ दिनों से प्रतिदिन दो लाख से अधिक लोगों को ले जाया जा रहा है, जिसके आने वाले दिनों में प्रति दिन तीन लाख यात्रियों तक पहुंचने की उम्मीद है।

अधिकारी ने कहा कि इन 1,565 श्रमिक स्पेशल ट्रेनों को आंध्र प्रदेश, दिल्ली, गुजरात, हरियाणा, महाराष्ट्र, पंजाब, राजस्थान, तमिलनाडु, तेलंगाना, कर्नाटक, केरल, गोवा, झारखंड, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और बिहार जैसे विभिन्न राज्यों से चलाया गया है।

फंसे हुए प्रवासी कामगारों, पर्यटकों, तीर्थयात्रियों और छात्रों के परिवहन के लिए रेलवे ने एक मई से स्पेशल श्रमिक ट्रेनें चलाना शुरू कर दिया था।

रेलवे ने कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए 25 मार्च से सभी पैसेंजर, मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों को निलंबित कर दिया था। आवश्यक वस्तुओं के परिवहन के लिए केवल माल और विशेष पार्सल ट्रेनें ही चलाई जा रही हैं।

कमेंट करें
QfbdT