दैनिक भास्कर हिंदी: भारत का डिजिटल बैंकिंग चैनल बनने की राह पर व्हाट्सएप

June 15th, 2020

हाईलाइट

  • भारत का डिजिटल बैंकिंग चैनल बनने की राह पर व्हाट्सएप

नई दिल्ली, 15 जून (आईएएनएस)। व्हाट्सएप पे भारत में 40 करोड़ से अधिक उपयोगकर्ताओं (यूजर्स) के साथ भुगतान का सबसे बड़ा माध्यम और मोबाइल आधारित ईकॉमर्स बनने से पहले भारत में बैंकों के लिए डिजिटल चैनल के तौर पर काफी उपयोगी साबित हो रहा है।

भारत में बैंक डिजिटल तौर पर निष्क्रिय रहने वाले ग्राहकों की सहूलियत के लिए पहले से ही एप का भरपूर लाभ उठा रहे हैं। सामाजिक दूरी के इस समय में बैंक व्हाट्सएप को अपने पहले डिजिटल बैंकिंग चैनल के तौर पर अपना रहे हैं।

आज व्हाट्सएप ग्राहकों के लिए बैंकों के साथ बातचीत करने के लिए एक सुविधाजनक और सहज चैनल बन गया है, जो मंच के माध्यम से बैंकिंग सेवाओं की एक श्रृंखला प्रदान कर रहा है।

कोटक महिंद्रा बैंक 2018 में व्हाट्सएप पर बैंकिंग सेवाएं शुरू करने वाला देश का पहला बैंक था।

बैंक ने अपने व्हाट्सएप बैंकिंग चैनल पर आज तक लगभग 20 लाख ग्राहकों को सेवा दी है, जिसमें पिछले वित्त वर्ष की तुलना में वित्तीय वर्ष 2020 में व्हाट्सएप बैंकिंग तक पहुंच स्थापित करने वाले ग्राहक आधार में 98 प्रतिशत की भारी वृद्धि हुई है।

कोटक महिंद्रा बैंक के अध्यक्ष और मुख्य डिजिटल अधिकारी दीपक शर्मा ने आईएएनएस को बताया, यह देखते हुए कि हमारे अधिकांश ग्राहक व्हाट्सएप इंटरफेस से परिचित हैं, हमने पाया कि हमारे कई डिजिटल निष्क्रिय ग्राहकों ने व्हाट्सएप को अपने पहले डिजिटल बैंकिंग चैनल के रूप में अपनाया है।

एचडीएफसी बैंक को देखें तो यह भी एप से काफी फायदा उठा रहा है। बैंक ग्राहकों के साथ जुड़ने के लिए प्रमुख चैनलों में से एक के रूप में व्हाट्सएप बिजनेस एपीआई का उपयोग कर रहा है। यह एक तरह से नए ग्राहकों को ऑन-बोडिर्ंग संचार, उत्पाद सुविधाओं की जानकारी और लाभ, भुगतान सूचनाएं और अपडेट किए गए नियामक (रेगुलेटरी) संदेश पहुंचाने के मामले में काफी सहायक सिद्ध हो रहा है।

एचडीएफसी बैंक में मुख्य डिजिटल अधिकारी अंजनी राठौर ने कहा, व्हाट्सएप बैंक के उत्पादों और सेवाओं, त्वरित उत्पाद एप्लिकेशन लिंक और पूछताछ सेवाओं पर 8,000 से अधिक एफएक्यू तक पहुंच के माध्यम से दो-तरफा ग्राहक सहायता में मदद (टू वे कस्टमर सपोर्ट) करता है।

व्हाट्सएप इंडिया के प्रमुख अभिजीत बोस के अनुसार, बिजनेस एपीआई बड़े पैमाने पर कंपनियों को अपने ग्राहकों के साथ जुड़ने में मदद कर रहा है।

बोस ने आईएएनएस को बताया, एक बार ग्राहक ऑप्ट-इन करते हैं या एक प्रश्न पूछना चाहते हैं, तो एपीआई का उपयोग करने वाले व्यापारी सूचनाएं भेज सकते हैं, प्राप्त कर सकते हैं और ग्राहक सहायता प्रदान कर सकते हैं। इससे ब्रांडों को अपने ग्राहकों के साथ गहरे और सार्थक रिश्ते बनाने में मदद मिलती है, जिससे उनकी कंपनियों को बिक्री बढ़ाने और आगे बढ़ने में मदद मिल सकती है।

शर्मा के अनुसार, कोटक बैंक ग्राहकों को ईएमआई शेड्यूल और पेमेंट रिमाइंडर जैसे महत्वपूर्ण अलर्ट भेजने के साथ ही ग्राहकों से जुड़ने व अन्य कई मामलों में एप का इस्तेमाल करता है।

उन्होंने कहा कि हम व्हाट्सएप पर एक ग्राहक को खाता खोलने पर डिजिटल स्वागत किट भी भेजते हैं।