दैनिक भास्कर हिंदी: पावर लिफ्टिंग के 4 खिलाड़ियों की सड़क हादसे में मौत, दो गंभीर

January 7th, 2018

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। दिल्ली-पानीपत हाईवे पर रविवार सुबह भीषण सड़क हादसा हुआ। इस हादसे में पावरलिफ्टिंग के 6 खिलाड़ी हादसे का शिकार हो गए। इनमे से चार खिलाड़ियों की मौके पर ही मौत हो गई जबकि दो खिलाड़ियों को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती किया गया है। बताया जा रहा है कि कोहरे की वजह से इन खिलाड़ियों की कार डिवाइडर से टकरा गई जिस कारण ये हादसा हुआ। गंभीर रूप से घायलों में दिल्ली के नांगलोई के सक्षम यादव भी हैं, जो दो बार पावर लिफ्टिंग के वर्ल्ड चैम्पियन रह चुके हैं।

 

 

पलटी खाते हुए खंभे से भिड़ी कार

ठंड ने पूरे नॉर्थ इंडिया को अपनी गिरफ्त मे ले रखा है। कोहरे के कारण ट्रेन और फ्लाइट घंटों लेट रही है। इस बीच घने कोहरे की वजह से दिल्ली पानीपत हाईवे की सिंधू बॉर्डर पर चार पावरलिफ्टिंग खिलाड़ियों की एक्सीडेंट में जान चली गई। बताया जा रहा है कि ये खिलाड़ी स्विफ्ट डिजायर कार में किसी प्रतियोगिता में शामिल होने जा रहे थे। ये खिलाड़ी दिल्ली से बाहर निकले ही थे कि ये हादसा हो गया। कहा जा रहा है कि घना कोहरा होने की वजह से विजिबिलिटी बहुत कम थी। सामने डिवाइडर दिखाई नहीं दिया और कार डिवाइडर से टकराने के बाद पलटी खाते हुए खंभे से भिड़ गई। 

 

 

मैक्स अस्पताल में चल रहा इलाज

हादसे की सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंच गई और कार में सवार खिलाड़ियों को अस्पताल पहुंचाया गया। जहां डॉक्टरों ने 4 खिलाड़ियों को मृत घोषित कर दिया वहीं दो खिलाड़ियों का इलाज दिल्ली के मैक्स अस्पताल में चल रहा है।

 

Image result for saksham yadav delhi

 

राष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ी

मृतक नेशनल लेवल के खिलाड़ी रह चुके हैं। वर्ल्ड चैंपियन सक्षम यादव दिल्ली के नांगलोई के रहने वाले हैं। बाकी खिलाड़ी दिल्ली के तिमारपुर एरिया के रहने वाले हैं।  पुलिस ने बताया कि पहले तो घायलों को नरेला के राजा हरिश्चंद हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था, लेकिन बाद में उन्हें शालीमार बाग के मैक्स हॉस्पिटल में रैफर कर दिया गया। हॉस्पिटल में उनके परिजन पहुंच चुके हैं। यह हादसा सुबह करीब चार बजे हुआ था। हादसे में कार के परखच्चे उड़े गए। पुलिस ने बताया कि कार की हालत देखकर कहा जा सकता है कि कार की रफ्तार बहुत तेज रही होगी सक्षम यादव ने मॉस्को में पिछले दिसंबर में हुए वर्ल्ड कप पावरलिफ्टिंग चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीत कर देश का नाम रोशन किया था।