दैनिक भास्कर हिंदी: सतना रेप केस : बच्ची की हालत अब भी नाजुक, एयरलिफ्ट कर ले जाया जाएगा दिल्ली

July 3rd, 2018

डिजिटल डेस्क, सतना। सतना में दरिंदगी की शिकार 4 साल की मासूम को इलाज के लिए एयरलिफ्ट कर दिल्ली के एम्स ले जाया जाएगा। बच्ची की हालत अभी भी काफी नाजुक बनी हुई है। दुष्कर्म के बाद जंगल में लहूलुहान हालत में मिलने के बाद बच्ची को सतना के जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जिस 28 वर्षीय युवक को बच्ची से रेप के मामले में गिरफ्तार किया गया है, वो शिक्षाकर्मी है।

 

 

यह भी पढ़ें : मध्य प्रदेश : 4 साल की मासूम को घर से अगवा कर किया रेप, जंगल में खून से लथपथ मिली

 

 

शिक्षक ने दिया घिनौनी वारदात को अंजाम
पुलिस ने बताया कि दुष्कर्म का आरोपी महेन्द्र राज गोंड़ परसमनिया के शासकीय हाईस्कूल में संविदा वर्ग-2 का शिक्षक है। उसने बीएससी तक पढ़ाई की है और अभी वो बीएड कर रहा है। आरोपी के खिलाफ परसमनिया थाने में मारपीट के भी कई मामले पहले से दर्ज हैं।
 


7 दिन के अंदर चालान पेश करेगी पुलिस 
पुलिस अधीक्षक राजेश हिंगणकर ने मानवता को शर्मसार करती इस घटना पर दु:ख व्यक्त करते हुए कहा कि पुलिस अपहरण और दुष्कर्म के इस गंभीर मामले में 7 दिन के अंदर अदालत में चालान पेश कर देगी, ताकि जल्द से जल्द आरोपी को फांसी पर लटकाया जा सके। 

पिता समेत परिजनों को बंधक बनाने की भी कोशिश 
आरोप है कि शक के आधार पर जब पीड़िता के पिता अपने अन्य परिजनों के साथ आरोपी की तलाश में उसके पन्ना स्थित घर पर पहुंचे तो, आरोपी ने भागने की कोशिश की वहीं उसके अन्य परिजनों ने पिता समेत अन्य को घेर कर बंधक बनाने की भी कोशिश की। 

इलाज में लेट लतीफी भी शर्मनाक 
जहां वारदात मानवता को शर्मसार करती है, वहीं जिला अस्पताल में इलाज में लापरवाही भी कम शर्मनाक नहीं है। परिजनों के मुताबिक पीड़िता को उचेहरा अस्पताल से  सोमवार की सुबह 7 बजे जिला अस्पताल के लिए रेफर किया गया। उसे मेडिकल स्टाफ ने अटैंड तो किया, लेकिन गंभीरता पूर्वक इलाज के लिए उसे शाम साढ़े 5 बजे तब ले जाया गया, जब जिला अस्पताल में एसपी-कलेक्टर और अन्य वरिष्ठ अधिकारियों की आमद हुई। पीड़िता को साढ़े 11 बजे से 12 के बीच अगवा किया गया। वो जंगल की झाड़ियों में लहूलुहान और बेसुध सुबह 3 बजे तक पड़ी रही। इसके बाद ग्रामीणों की मदद से परिजन उसे उचेहरा अस्पताल ले गए।

आरोपी के खिलाफ अपराध दर्ज
आदिवासी बालिका के साथ दुष्कर्म के आरोपी महेन्द्र राज गोंड़ के खिलाफ उचेहरा थाने में आईपीसी के सेक्शन 363,376(1-झ) , 226/18 के अलावा पाक्सो एक्ट की धारा 4/6 के तहत अपराध दर्ज किया गया है। नागौद एसडीओपी किरण किरो ने उचेहरा थाने के लॉकप में आरोपी से पूछताछ कर बयान कलमबंद किए हैं। उधर, यहां जिला अस्पताल में अपर कलेक्टर जेपी धुर्वे ने पीड़िता और उसके माता-पिता के बयान दर्ज किए।