दैनिक भास्कर हिंदी: मॉब लिंचिंग: मुजफ्फरपुर में मोबाइल चोरी के शक में युवक की पीट-पीट कर हत्या

July 29th, 2018

हाईलाइट

  • बिहार के मुजफ्फरपुर में सामने आया मॉब लिंचिंग का मामला
  • मोबाइल चोरी के शक में युवक की भीड़ ने की पीट-पीटकर की हत्या
  • पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ दर्ज किया मामला

डिजिटल डेस्क, पटना। देश में मॉब लिंचिंग के नाम पर लोगों को मारने के मामले थम नहीं रहे है। बिहार के मुजफ्फरपुर में फिर एक मॉब लिंचिंग का मामला सामने आया है। मोबाइल चोरी के शक में एक शख्स की भीड़ ने पीट-पीट कर हत्या कर दी। पुलिस ने घटना की जानकारी मिलने के बाद अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है। 

Image result for crime mob lynching

 

 

घटना से आक्रोशित लोगों ने बैरिया बस स्टैंड रोड को जाम कर दिया और आगजनी कर प्रदर्शन करने लगे। इससे वाहनों की लंबी कतार लग गई।। स्थानीय लोगों का आरोप है की घटना को जानबूझकर अंजाम दिया गया है। मृतक के घरवालों का रो रोकर बुरा हाल है। परिजनों ने भी आरोप लगाया कि छेड़छाड़ के पुराने विवाद में जानबूझकर हत्या की गई है। जबकि मुजफ्फरपुर की एसएसपी का बेहद गैरजिम्मेदाराना बयान भी सामने आया है। एसएसपी ने कहा कि मारे गए युवक पर पहले भी मोबाइल चुराने का आरोप लग चुका है। पूरे मामले में पुलिस ने घरवालों और आस-पास के लोगों के बयान दर्ज कर लिए हैं। इससे पहले गुजरात के दाहोद इलाके में दो युवकों को मोबाइल चोरी के आरोप में भीड़ ने जमकर पीटा था। जिसमें एक युवक की मौके पर मौत हो गई थी तो दूसरा युवक गंभीर रूप से घायल हो गया था। 

 

 

Image result for mob lynching cartoon

 


एक रिपोर्ट के मुताबिक 2010 से 2017 के बीच भीड़ द्वारा हिंसा या हत्या की 60 घटनाओं में 25 लोग मारे गए। 7 साल में भीड़ द्वारा हिंसा की 97% वारदातें तो 2014 के बाद हुईं। 25 जून 2017 तक की भीड़ द्वारा हमला करके मार दिए गए 25 लोगों में 21 मुस्लिम थे, लेकिन पिछले एक साल में भीड़ के हाथों मारे गए लोग किसी धर्म विशेष से नहीं हैं। यानी अब भीड़ धर्म,जाति नहीं देख रही, किसी को भी मार दे रही है।