दैनिक भास्कर हिंदी: आजम खां राजनीतिक षड्यंत्र के शिकार हुए : अखिलेश

February 27th, 2020

हाईलाइट

  • आजम खां राजनीतिक षड्यंत्र के शिकार हुए : अखिलेश

सीतापुर, 27 फरवरी (आईएएनएस)। समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने जेल भेजे गए पार्टी के नेता के बारे में कहा कि आजम खां राजनीतिक षड्यंत्र के शिकार हुए हैं।

अखिलेश गुरुवार को सीतापुर जेल में बंद सांसद आजम खां से भेंट करने से पहुंचे। इस दौरान अखिलेश यादव ने कहा कि आजम खां राजनीतिक षड्यंत्र के शिकार हुए हैं। हिंसा कराना ही भाजपा का गुजरात मॉडल है।

उन्होंने कहा कि आजम खां को न्यायालय से इंसाफ मिलेगा। यह तो सभी को दिख रहा है कि आजम के खिलाफ यह राजनीतिक षड्यंत्र है, जिसके तहत उनको जेल में रहना पड़ रहा है। किसी के खिलाफ बदले की भावना से कार्रवाई नहीं होनी चाहिए।

बताया जा रहा है कि अखिलेश यादव के साथ नौ लोगों को जेल के अंदर आजम से भेंट करने की अनुमति दी गई है।

सपा मुखिया ने कहा, जब से भाजपा की सरकार बनी है, उन (आजम खां) पर मुकदमे दर्ज कराए गए हैं। उनको साजिश के तहत फंसाया गया है। भाजपा के नेता ने शिकायत की। भाजपा से क्या उम्मीद करेंगे आप।

दिल्ली हिंसा पर अखिलेश ने कहा कि केंद्र सरकार दिल्ली के दंगे नहीं रोक पाई। भारतीय जनता पार्टी समाज को बांटने की राजनीति करती है।

उन्होंने कहा, यह दुभाग्यपूर्ण है कि जो राष्ट्र के नाम पर वोट लेकर आए थे, आज हमें उन्हीं से राष्ट्र को बचाना पड़ रहा है। नफरत फैलाना और देश में आग लगाना ही गुजरात मॉडल है।

सपा सांसद आजम खां की बैरक में अखिलेश यादव के साथ विधान पार्षद आनंद भदौरिया, विधायक नरेंद्र वर्मा, पूर्व विधायक अनूप गुप्ता और राधेश्याम जायसवाल समेत कई जनप्रतिनिधियों मुलाकात के लिए भेजा गया। दोनों नेताओं के बीच काफी देर तक बातचीत हुई। इस दौरान जेल के बाहर बड़ी संख्या में समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता एकत्र थे।

फर्जी जन्म प्रमाणपत्र के मामले में आजम खां ने मंगलवार को पत्नी और बेटे के साथ रामपुर की अदालत में आत्मसमर्पण किया। इसके बाद इन सभी को 2 मार्च तक न्यायिक हिरासत में रखने का आदेश दिया गया। आजम पर 85 मुकदमे दर्ज हैं। कई मुकदमों में आजम के साथ पत्नी तजीन और बेटे अब्दुल्ला भी आरोपी हैं।