दैनिक भास्कर हिंदी: जयपुर दौरे पर अमित शाह, दीनदयाल उपाध्याय स्मारक का करेंगे लोकार्पण

September 26th, 2018

हाईलाइट

  • बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह आज जयपुर दौरे पर।
  • धनाक्या गांव में दीनदयाल उपाध्याय स्मारक का लोकापर्ण करेंगे।
  • शाह के साथ सीएम वसुंधरा राजे भी मंच साझा करेंगी।
  • बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे शाह।

डिजिटल डेस्क, जयपुर। बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह आज जयपुर के दौरे पर रहेंगे। यहां वो कई कार्यक्रमों में हिस्सा लेंगे। लंबे समय बाद राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे भी इस बार शाह के साथ मंच साझा करेंगी। चुनाव के मद्देनजर अमित शाह लगातार राजस्थान के दौरे कर रहे हैं। सितंबर महीनें में शाह तीसरी बार राजस्थान जा रहे हैं जबकि जयपुर में यह उनका दूसरा दौरा है।
 

दीनदयाल स्मारक का लोकार्पण करेंगे शाह
 
अमित शाह जयपुर पहुंचते ही सबसे पहले पंडित दीनदयाल उपाध्याय के ननिहाल धनाक्या में जाएंगे। यहां वो दीनदयाल स्मारक का लोकापर्ण करेंगे। इस कार्यक्रम की अध्यक्षता मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे करेंगी। इनके अलावा केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल, राज्यवर्धन सिंह राठौड़, राज्यसभा सांसद ओम माथुर, राष्ट्रीय संगठन महामंत्री रामलाल, प्रदेशाध्यक्ष मदन लाल सैनी सहित राज्य सरकार के कई मंत्री शामिल होंगे। दीनदयाल उपाध्याय स्मारक का निर्माण राजस्थान धरोहर संरक्षण प्रोन्नति प्राधिकरण ने कराया है। 


कार्यकर्ता सम्मेलन को भी करेंगे संबोधित

लोकार्पण कार्यक्रम के बाद अमित शाह धनाक्या गांव में ही 35 विधानसभा क्षेत्रों के बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे। फिर शाह जयपुर में चुनाव प्रबंधन समिति की बैठक में हिस्सा लेंगे। इस बैठक का संयोजक केंद्रीय कृषि मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत को बनाया गया है। शेखावत को अध्यक्ष बनाने को लेकर वसुंधरा राजे और अमित शाह के बीच तनातनी चल रही थी। अभी तक सीएम वसुंधरा राजे चुनाव प्रचार अभियान की कमान अपने हाथ में ले रखी थी। अब माना जा रहा है, चुनाव प्रचार की जिम्मेदारी विधानसभा चुनाव प्रबंधन समिति को दी जाएगी।


काफी समय से शाह के कार्यक्रम में नहीं दिखीं वसुंधरा राजे

गौरतलब है कि अमित शाह 11 सितंबर से लेकर अब तक में जयपुर, जोधपुर, उदयपुर, भरतपुर, अजमेर और कोटा संभाग में कार्यकर्ताओं के साथ बैठक और सम्मेलन कर चुके हैं। मगर इन सम्मेलनों से वसुंधरा राजे दूर रहीं। काफी समय तक वसुंधरा राजे और अमित शाह एक मंच पर दिखाई नहीं दिए। जिसे लेकर सियासी गलियारों में गुटबाजी की चर्चाएं भी हो रही थीं। अब बुधवार को लोकार्पण सहित कार्यकर्ता सम्मेलन और चुनाव प्रबंधन समिति की बैठक में भी दोनों साथ नजर आएंगे।