दैनिक भास्कर हिंदी: CAA के विरोध की आग में जला यूपी, हिंसक प्रदर्शन के दौरान 6 लोगों की मौत

December 20th, 2019

हाईलाइट

  • बिजनौर में 2, फिरोजाबाद, संभल, कानपुर और लखनऊ 1-1 मौत
  • शिक्षक पात्रता परीक्षा (TET) को भी रद्द कर दिया गया है
  • कानपुर में बाबूपुरवा में हिंसक प्रदर्शन में 13 लोग घायल हो गए

डिजिटल डेस्क, बिजनौर। नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ देश के कई हिस्सों में हिंसक प्रदर्शन हुए। वहीं उत्तरप्रदेश के 15 से ज्यादा शहरों में प्रदर्शनकारियों ने जमकर उत्पात मचाया। इस दौरान 6 प्रदर्शनकारियों की मौत हो गई। इसमें बिजनौर में 2 लोगों की मौत हो गई। जबकि फिरोजाबाद, संभल, कानपुर और लखनऊ एक-एक प्रदर्शनकारी की मौत हुई है। वहीं राज्य सरकार ने उत्तरप्रदेश में शिक्षकों की भर्ती के लिए होने वाले शिक्षक पात्रता परीक्षा (TET) को भी रद्द कर दिया है। 

 

शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद उत्तरप्रदेश के कई जिलों में जमकर बवाल हुआ। इस दौरान बिजनौर के नहटौर में प्रदर्शन के दौरान फायरिंग में चार लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। इनमें से इलाज के दौरान 2 लोगों की मौत हो गई है। पुलिस के भी 8 जवान इस झड़प में घायल हुए हैं। वहीं मेरठ में एक पुलिस चौकी को फूंक दिया गया।

हालांकि पुलिस की सक्रियता के बावजूद बिजनौर के साथ ही फिरोजाबाद, गोरखपुर, मेरठ, गाजियाबाद, हापुड़, बहराइच, मुजफ्फरनगर, कानपुर, उन्नाव, भदोही में उन्मादी भीड़ ने उग्र विरोध प्रदर्शन किया। कानपुर में उपद्रवियों ने पुलिस पर पथराव किया। पुलिस ने भीड़ पर काबू पाने के लिए लाठी चार्ज किया और आंसू गैस के गोले भी छोड़े।

इसी तरह कानपुर में बाबूपुरवा में हिंसक प्रदर्शन में 13 लोग घायल हो गए हैं। साथ ही पुलिस के 5 सिपाही और एक दरोगा भी घायल हुए हैं। एसएसपी अनंत देव तिवारी का कहना है कि शहर में अब स्थिति सामान्य है। पहले नमाजियों ने परेड चौराहे पर बवाल करने की कोशिश की थी और वहां तो लोग समझाने के बाद शांत हो गए, लेकिन बाबूपुरवा में प्रदर्शनकारी अचानक उग्र हो गए और पुलिस पर पथराव और फायरिंग करने लगे।

स्थगित हुई यूपी टीईटी परीक्षा, नई डेट का ऐलान जल्द

उत्तर प्रदेश में 22 दिसंबर रविवार को होने वाली अध्यापक पात्रता परीक्षा ( यूपी टीईटी ) को स्थगित कर दिया गया है। राजस्व एवं बेसिक शिक्षा विभाग की ओर से जारी नोटिस में कहा गया है कि अपरिहार्य कारणों से उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (यूपी टीईटी ) स्थगित की जाती है। परीक्षा की नई तिथि की सचूना जल्द से जल्द दी जाएगी। इस परीक्षा में 16 लाख 58 हजार परीक्षार्थी शामिल हो रहे हैं। परीक्षा संपन्न कराने के लिए 1986 परीक्षा केंद्र बनाए गए थे।

परीक्षा नियामक सचिव अनिल भूषण चतुर्वेदी ने पीटीआई भाषा को बताया कि इस परीक्षा के लिए प्रवेश पत्र 12 दिसंबर से ही डाउनलोड किए जा रहे थे लेकिन प्रदेश में कानून व्यवस्था को देखते हुए कई जगहों पर इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गई हैं जिससे प्रवेश पत्र डाउनलोड करने में समस्या आ रही है। उन्होंने कहा कि परीक्षा की अगली तिथि की जानकारी जल्दी ही दी जाएगी।

पुलिस महानिदेशक ओम प्रकाश सिंह ने बताया कि आज हुई हिंसा में मेरठ में एक, बिजनौर में दो, फिरोजाबाद में एक, संभल में एक व्यक्ति की मौत हो गई। इन तमाम घटनाओं में पचास से ज्यादा पुलिस कर्मी घायल हो गए हैं। हिंसा में हुई मौंते जांच का विषय है। ये पुलिस की गोली से नहीं मरे हैं।

उत्तर प्रदेश सरकार के प्रवक्ता व ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने प्रदेश वासियों से शांति बनाए रखने की अपील की है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के मुसलमान भाई अपने कंधे का इस्तेमाल नहीं होने दें। आजादी से लेकर आज तक उनका इस्तेमाल राजनैतिक टूल की तरह किया गया है। मौकापरस्त लोग अपने फायदे के लिए उनका इस्तेमाल कर रहे हैं।