दैनिक भास्कर हिंदी: CAB: असम में बिल पर बवाल, PM मोदी का ट्ववीट-आपका हक नहीं छीना जाएगा

December 12th, 2019

हाईलाइट

  • नागरिकता संशोधन बिल संसद के दोनों सदनों से पास
  • नागरिकता बिल पर असम और पूर्वोत्तर राज्यों में भड़की हिंसा
  • असम के लोगों का हक नहीं छीना जाएगा- प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी

डिजिटल डेस्क, दिल्ली। नागरिकता संशोधन बिल संसद के दोनों सदनों (लोकसभा-राज्यसभा) से पास हो गया है। केन्द्र की मोदी सरकार के लिए ये बिल एक बड़ी सफलता माना जा रहा है, लेकिन बिल का विरोध संसद से अब सड़क पर आ पहुंचा है। असम समेत कई पूर्वोत्तर राज्यों में लोग बिल के विरोध में हिंसक प्रदर्शन कर रहे हैं। कई जगहों पर पत्थराव और आगजनी की घटनाएं समाने आई हैं। पुलिस व्यवस्था को बढ़ा दिया गया है। गुरुवार को भी पूर्वोत्तर में इस बिल के खिलाफ प्रदर्शन जारी है। पूर्वोत्तर के नागरिक इस बिल का पुरजोर विरोध कर रहे हैं और इसे उनकी स्थानीय अस्मिता पर हमला मान रहे हैं। यही कारण है कि सड़कों पर प्रदर्शन हो रहा है।

LIVE UPDATE

 

  • प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा, असम की जनता का हक नहीं छीना जाएगा

 

 

  • असम में चल रहे विरोध प्रदर्शन के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर शांति की अपील की है। पीएम मोदी ने ट्विटर पर लिखा, मैं असम के भाईयों-बहनों को भरोसा दिलाता हूं कि CAB के पास होने से आप पर असर नहीं पड़ेगा। कोई भी आपका हक नहीं छीन रहा है, ये ऐसे ही जारी रहेगा।

 

  • सुप्रीम कोर्ट में इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग का प्रतिनिधित्व करने के लिए वरिष्ठ अधिवक्ता कपिल सिब्बल ने दायर की गई याचिका में कोर्ट से नागरिकता कानून संशोधन 2017 को अवैध और शून्य घोषित करने का अनुरोध किया। 

 

 

  • कांग्रेस के दिग्गज नेता राहुल गांधी को जवाब देते हुए केन्द्रीय मंत्री किरण रिजिजू ने लिखा, कांग्रेस पार्टी के द्वारा सभी शरणार्थियों को हमारे संरक्षित इलाकों में लाया गया। कांग्रेस की पॉलिसी की वजह से अवैध घुसपैठिए नॉर्थ ईस्ट में आ गए। आपके ब्लंडर को अब सुधारा गया है।

 

 

  • नागरिकता संशोधन बिल को लेकर पूर्वोत्तर में चल रहे विरोध के बाद स्पाइसजेट, विस्तारा, इंडिगो ने असम जाने वाली अपनी सभी फ्लाइट को रद्द कर दिया है।

 

 

  • गुवाहाटी में धारा 144 लागू
  • नागरिकता बिल के पास होने के बाद सबसे ज्यादा विरोध प्रदर्शन असम में हो रहा है। गुवाहाटी में राज्य सरकार ने धारा 144 लगा दी है, जो गुरुवार रात 7 बजे तक जारी रहेगी। असम में छात्र संगठनों की अगुवाई में चल रहे प्रदर्शन में काफी तोड़फोड़ की गई थी। असम के छाबुआ, पानितोला रेलवे स्टेशन पर प्रदर्शनकारियों ने हंगामा किया है और आग लगा दी। इसके अलावा दिब्रूगढ़, तिनसुकिया के रेलवे स्टेशन को अलर्ट पर रखा गया है। तिनसुकिया में ही सेना ने मार्च भी निकाला है।

 

  • पूर्वोत्तर राज्यों में बढ़ाई गई सुरक्षा
  • बिल खिलाफ जारी प्रदर्शन को देखते हुए सरकार ने पूर्वोत्तर राज्यों में सुरक्षा बढ़ा दी है। बुधवार देर शाम को असम रायफल्स की दो कॉलम्स को त्रिपुरा में तैनात किया गया है, ताकि किसी भी स्थिति से निपटा जा सके। तिनसुकिया में बीजेपी के अस्थाई दफ्तर में भी प्रदर्शनकारियों ने आग लगा दी थी। इसके अलावा असम के दस जिलों में इंटरनेट को बंद रखा गया है।


 

  • राज्यसभा से भी पास हुआ बिल
  • बुधवार को करीब 6 घंटे की बहस के बाद राज्यसभा से नागरिकता संशोधन बिल पास हो गया है। बिल के समर्थन में 125, विरोध में 99 वोट पड़े थे। कांग्रेस, टीएमसी ने इस बिल का विरोध किया और इसे संविधान के खिलाफ बताया। जबकि, बिल के पास होने के बाद पीएम नरेंद्र मोदी ने गृह मंत्री अमित शाह को बधाई दी।