दैनिक भास्कर हिंदी: छत्तीसगढ़ के राज्यपाल बलराम दास टंडन का 90 वर्ष की उम्र में निधन

August 14th, 2018

हाईलाइट

  • मंगलवार सुबह उन्हें दिल का दौरा पड़ा था, जिसके बाद उन्हें रायपुर के मेकहारा अस्पताल में भर्ती कराया गया था।
  • राजभवन में नाश्ता करते समय उन्हें हार्ट अटैक आया था।
  • बलराम के भर्ती होने के बाद से मेकहारा अस्पताल की सुरक्षा बढ़ा दी गई थी।

डिजिटल डेस्क, रायपुर। छत्तीसगढ़ के राज्यपाल बलराम दास टंडन का 90 साल की उम्र में निधन हो गया है। मंगलवार को उन्हें दिल का दौरा पड़ा था, जिसके बाद उन्हें रायपुर के मेकहारा अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जानकारी के मुताबिक राजभवन नाश्ता करते समय उन्हें हार्ट अटैक आया था। आनन-फानन में उन्हें मेकाहारा (अंबेडकर अस्पताल) हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

बलराम दास टंडन को देखने बलराम के भर्ती होने के बाद से मेकहारा अस्पताल की सुरक्षा बढ़ा दी गई थी। अस्पताल में 50 से ज्यादा सुरक्षा गार्डों को तैनात किया गया था। टंडन को अस्पताल में आईसीयू में रखा गया था। राज्यपाल की तबीयत बिगड़ने की सूचना मिलने के छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह भी उनका हालचाल लेने पहुंचे थे। टंडन के निधन की जानकारी मिलने के बाद अस्पताल के बाहर राजनैतिक और सामाजिक दलों से जुड़े लोग अस्पताल के बाहर बड़ी संख्या में एकत्रित हो गए।

इन पदों पर रहे टंडन
बता दें कि टंडन 25 जुलाई 2014 से छत्तीसगढ़ के राज्यपाल थे। टंडन 1951 में जनसंघ के संस्थापक सदस्य भी रहे हैं। 1951 से लेकर 1957 तक जनसंघ के पंजाब सचिव और 1995 से लेकर 1997 तक भाजपा के पंजाब अध्यक्ष भी रहे। वह अकाली दल जन संघ मंत्रालय में 1969 से लेकर 1970 तक पंजाब में उपमुख्यमंत्री का पद संभाला है। 1977 से 1979 और 1997 से 2002 में प्रकाश सिंह बादल की सरकार में बतौर वे कैबिनेट मंत्री काम कर चुके हैं। 1975 में आपातकाल के समय वो जेल भी गए थे।

 

 

खबरें और भी हैं...