दैनिक भास्कर हिंदी: गोधराकांड में शामिल लोगों के सामने देशभक्ति साबित नहीं करूंगा : सिद्धू

November 17th, 2018

हाईलाइट

  • नवजोत सिंह सिद्धू ने पीएम नरेंद्र मोदी पर हमला बोला है।
  • सिद्धू ने कहा कि गोधराकांड में शामिल लोगों के सामने देशभक्ति साबित नहीं करूंगा।
  • सिद्धू ने यह बातें छत्तीसगढ़ में कांग्रेस के चुनाव प्रचार के दौरान कही।

डिजिटल डेस्क, रायपुर। अपने विवादित बयानों से सुर्खियों में रहने वाले पंजाब के मंत्री और पूर्व क्रिकेटर नवजोत सिंह सिद्धू ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है। सिद्धू ने पीएम मोदी को लेकर कहा है कि जिनका नाम गोधराकांड में आ चुका है, उनके सामने उन्हें देशभक्ति साबित करने की कोई जरूरत नहीं है। सिद्धू ने यह बातें छत्तीसगढ़ में कांग्रेस के चुनाव प्रचार के दौरान कही।

सिद्धू ने कहा, 'क्या प्रधानमंत्री को इस बात की जलन है कि उन्हें पाकिस्तान के वजीर-ए-आजम के शपथ ग्रहण समारोह में नहीं बुलाया गया? या फिर पीएम को इस बात की जलन है कि वह बिना आमंत्रण के नवाज शरीफ के जन्मदिन पर पाकिस्तान चले गए थे? मैं उन लोगों के सामने अपनी देशभक्ति साबित नहीं करूंगा, जिनका नाम गोधरा कांड में आया था।'

सिद्धू ने छत्तीसगढ़ के रायपुर में कहा कि देश की जनता अब बदलाव चाहती है। सिद्धू ने कहा कि 2014 की लहर अब कहर बन गई है। उन्होंने कहा, 'पीएम मोदी ने कालाधन वापस लाने की बात कही थी और कहा था कि यह पैसा गरीबों के अकाउंट में जाएगा। हालांकि ऐसा कुछ नहीं हुआ और गरीबों में इसी बात का गुस्सा है। उन्होंने आतंकवाद कम करने की बात कही थी, लेकिन अब यह और बढ़ गया है। भारत में 80 प्रतिशत बिजनेस कैश में चलता है, लेकिन पीएम ने 500 और 1000 का नोट ही बंद कर दिया और 2000 का नोट चालू कर दिया। यह कैसा नोटबंदी है।'

सिद्धू  ने कहा, 'सरकार ने ब्लैकमनी को पर्पल मनी में परिवर्तित कर दिया। गरीब लोग लाइन में खड़े होकर मारे गए और अमीर अपने बच्चों की शादी करवा रहे हैं। अमीर का चिराग जलने दो और गरीबों की झोपड़ी जलने दो। सिद्धू ने कांग्रेस और उसके पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी की भी जमकर तारीफ की। सिद्धू ने कहा कि राहुल गांधी का मुझे छत्तीसगढ़ भेजना सम्मान की बात है। कांग्रेस के समय पेट्रोल-डीजल के दाम कंट्रोल में थे, लेकिन अभी की सरकार ने इसका दाम बढ़ा दिया है। इससे सीधा फाएदा अंबानी और अमीरों को हो रहा है। मनमोहन सिंह की सरकार के दौरान NPA भी कम था, जो कि अब बढ़कर 12 लाख करोड़ हो गया।'

खबरें और भी हैं...