comScore

पीएम मोदी के सांसद मुझे देखकर 2 कदम पीछे हट जाते हैं : राहुल

January 04th, 2019 17:50 IST
पीएम मोदी के सांसद मुझे देखकर 2 कदम पीछे हट जाते हैं : राहुल

हाईलाइट

  • राहुल ने अपनी 'झप्पी पॉलिटिक्स' पर पीएम मोदी और उनके सांसदों को आड़े हाथों लिया है।
  • उन्होंने मजाकिया अंदाज में कहा कि आजकल पीएम मोदी के सांसद मुझे देखकर 2 कदम पीछे हट जाते हैं।
  • राहुल बोले- मैं आडवाणी जी से भी गले मिल सकता हूं

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। संसद में अविश्वास प्रस्ताव पर अपनी बात रखने के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अचानक पीएम नरेंद्र मोदी के पास पहुंचकर उनके गले लग गए थे। इस घटना के पांच दिन बाद राहुल ने अपनी इस 'झप्पी पॉलिटिक्स' पर बात करते हुए पीएम मोदी और उनके सांसदों को आड़े हाथों लिया है। राहुल गांधी ने नफरत की राजनीति बंद करने की बात करते हुए मजाकिया अंदाज में कहा कि आजकल पीएम मोदी के सांसद मुझे देखकर 2 कदम पीछे हट जाते हैं।

जानकारी के अनुसार राहुल गांधी वरिष्ठ पत्रकार करण थापर की किताब 'डेविल्स एडवोकेट' के विमोचन कार्यक्रम में उपस्थित हुए थे। इस दौरान राहुल के साथ इस कार्यक्रम में पूर्व पीएम मनमोहन सिंह, पूर्व उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी, वरिष्ठ बीजेपी नेता लाल कृष्ण आडवाणी, दिग्विजय सिंह, मनीष तिवारी, शशि थरूर, सीपीएम नेता सीताराम येचुरी, अहमद पटेल समेत कई नेता मौजूद थे। राहुल गांधी और मनमोहन सिंह ने किताब का विमोचन किया।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा, 'आज हमारे देश में नफरत और गुस्से का माहौल है। हमारा धर्म हमें नफरत में कैद होना नहीं सिखाता। हम मोदी सरकार से लड़ सकते हैं लेकिन बगैर नफरत के साथ हमें यह लड़ाई लड़नी है।' इसके बाद मजाकिया अंदाज में राहुल ने कहा, 'आज कल बीजेपी नेता मुझे देख कर 2 कदम पीछे हो जाते हैं।'

 

मैं आडवाणी जी से भी गले मिल सकता हूं
अपने संबोधन में राहुल गांधी ने मंच पर बैठे लाल कृष्ण आडवाणी का नाम लेते हुए कहा कि मैं जो कह रहा हूं उससे आडवाणी जी भी सहमत होंगे। आडवाणी पर बात करते हुए राहुल ने कहा, ' ये हो सकता है कि आडवाणी से असहमति हो, लेकिन उनसे नफरत नहीं। मैं इनसे भी गले मिल सकता हूं। हम गले मिल के भी लड़ सकते हैं।'

राहुल ने कहा, 'आज देश में काफी गुस्सा, नफरत, फ्रस्ट्रेशन का माहौल है। सभी नेता दुनिया को अपने तरीके से देखना चाहते हैं। राजनीति का तरीका टकराव भरा है, लेकिन मैं ऐसे परिवेश में बड़ा नहीं हुआ हूँ।' राहुल गांधी ने अपने भाषण के अंत में कहा, 'पता नहीं बदले में वो लोग मुझे आदर देंगे या नहीं।'

कमेंट करें
xkGNe