comScore

Coronvirus in Delhi: दिल्ली के मुख्यमंत्री अ​रविंद केजरीवाल का कोरोना टेस्ट निगेटिव, तबीयत में सुधार

June 09th, 2020 21:39 IST
Coronvirus in Delhi: दिल्ली के मुख्यमंत्री अ​रविंद केजरीवाल का कोरोना टेस्ट निगेटिव, तबीयत में सुधार

हाईलाइट

  • सोमवार को डिप्टी सीएम सिसोदिया ने दी थी तबीयत खराब होने की सूचना
  • केजरीवाल ने लक्षण दिखते ही खुद को क्वारंटाइन कर लिया था
  • मंगलवार सुबह लिए गए थे सीएम कोजरीवाल के सेंपल, शाम को रिपोर्ट निगेटिव आई

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को अपना कोरोना टेस्ट करवाया। सीएम की टेस्ट रिपोर्ट निगेटिव आई है और वे पूरी तरह सुरक्षित हैं। मुख्यमंत्री को बुखार और गले में खराश की शिकायत थी, जिसे देखते हुए उनका कोरोना टेस्ट किया गया था। टेस्ट की रिपोर्ट मंगलवार शाम आई। बता दें कि सोमवार को उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा था कि, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की तबीयत ठीक नहीं है। उन्हें बुखार है और गले में कफ है। इसीलिए मुख्यमंत्री ने खुद को आइसोलेट कर लिया है। वह कोई बैठक भी नहीं कर रहे हैं।

हालांकि अब कोरोना टेस्ट निगेटिव आने के बाद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल सामान्य रूप से अपना कार्य कर सकेंगे। मंगलवार सुबह मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अपना सैंपल दिया था। इससे पहले मुख्यमंत्री स्वयं को पहले ही सभी सरकारी कार्यक्रमों एवं बैठकों से अलग कर चुके थे। सोमवार को उन्होंने किसी अधिकारी से मुलाकात नहीं की। मुख्यमंत्री ने स्वयं को अपने आवास के अंदर आइसोलेशन में रखा था।

दिल्ली सरकार के अधिकारियों के मुताबिक इससे पहले रविवार सुबह मुख्यमंत्री ने एक कैबिनेट बैठक की थी। इस बैठक में दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया, पर्यावरण मंत्री गोपाल राय, स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन सहित कई मंत्रियों ने हिस्सा लिया था। बैठक में मुख्य सचिव विजय देव भी मौजूद थे। हालांकि बुखार आने के उपरांत मुख्यमंत्री ने अपने सभी कार्यक्रम रद्द कर दिए।

दिल्ली में तेजी से बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के केस
मंगलवार को स्टेट डिजास्टर मैनेजमेंट की एक अहम बैठक हुई। इस बैठक में दिल्ली में कोरोना की स्थिति जानकारी दी गई, लेकिन सावधानी बरतते हुए मुख्यमंत्री इस बैठक में शामिल नहीं हुए। उनके स्थान पर दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने इस बैठक में शिरकत की। दिल्ली में कोरोना वायरस तेजी से फैल रहा है। जुलाई के अंत तक दिल्ली में कोरोना रोगियों की संख्या बढ़कर साढ़े पांच लाख तक पहुंच जाएगी है। यह खुलासा स्वयं दिल्ली सरकार ने किया है। दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि ऐसी स्थिति में कोरोना रोगियों का उपचार करने के लिए दिल्ली के अस्पतालों में कम से कम 80 हजार बेड की आवश्यकता होगी।

कमेंट करें
CrH0X