• Dainik Bhaskar Hindi
  • National
  • Cyclonic Storm Nisarga India Weather Live Updates Cyclone Alert for Maharashtra Gujarat Rain Forecast Thunderstorm rainfall IMD

दैनिक भास्कर हिंदी: Cyclone Nisarga Update: विकराल हो रहा चक्रवात 'निसर्ग', तेज हवाओं के साथ भारी बारिश की संभावना, कई राज्यों में रेड अलर्ट

June 2nd, 2020

हाईलाइट

  • 3 जून की दोपहर महाराष्ट्र और गुजरात के तट से टकराएगा चक्रवात
  • तूफान निसर्ग के खतरे से निपटने के लिए NDRF की टीमें तैनात

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। (Weather/Cyclonic Nisarga Update)। महाराष्ट्र और गुजरात में चक्रवाती तूफान 'निसर्ग' का खतरा मंडरा रहा है। ईस्ट सेंट्रल अरब सागर में बना डिप्रेशन अब डीप डिप्रेशन में बदल गया है। धीरे-धीरे विकराल रूप ले रहा चक्रवाती तूफान अगले 12 घंटों में विकराल हो जाएगा और कल यानी 3 जून की दोपहर महाराष्ट्र और गुजरात के तट से टकराएगा। जिससे कई राज्यों में तेज हवाओं के साथ भारी बारिश हो सकती है। इसके मद्देनजर महाराष्ट्र, गुजरात, गोवा, दमन-दीव और दादरा नगर हवेली में रेड अलर्ट जारी किया गया है। 

तूफान से तबाही की आशंका को देखते हुए राज्य सरकारों ने तटीय इलाकों में रहने वाले लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाने का आदेश दिया है। निसर्ग के खतरे से निपटने के लिए नेशनल डिजास्टर रेस्पॉन्स फोर्स (NDRF) की करीब 23 टीमों को तैनात किया गया है। 

मौसम विभाग ने बताया है कि,3 जून की शाम को चक्रवाती तूफान उत्तरी महाराष्ट्र और दक्षिणी गुजरात को पार कर जाएगा जिससे भारी बारिश होने का अनुमान है।  

मौसम विज्ञान विभाग के मुताबिक, अगले 2 घंटों के दौरान हरियाणा के कुरुक्षेत्र में हल्की बारिश, उत्तर प्रदेश के एटा, मैनपुरी और आस-पास के क्षेत्रों में आंधी तूफान के साथ बारिश होगी। कई राज्यों में तूफान का असर भी दिखना शुरू हो गया है। गोवा में तेज हवाओं के साथ बारिश हो रही है।

IMD के डिप्टी डायरेक्टर जनरल आनंद शर्मा ने बताया, लंबी अवधि के आंकड़ों के अनुसार जुलाई महीने में पूरे भारत में 103% और अगस्त महीने में करीब-करीब 97% बारिश होगी। वहीं चक्रवात को लेकर उन्होंने कहा, 'निसर्ग' का ज्यादा असर दक्षिण गुजरात और उत्तरी महाराष्ट्र में देखने को मिलेगा। इस दौरान 100 से 125 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं। कुछ इलाकों में भारी और अत्यधिक भारी वर्षा की चेतावनी दी गई है। ये अम्फान से कम खतरनाक होगा। 3 जून को इसका ज्यादा असर दिखाई देगा।

मुंबई में निसर्ग के लिए जारी अलर्ट के चलते मछुआरे अपनी नावों को लेकर वापस किनारों पर लौट रहे हैं। ।

 निसर्ग तूफान का असर भी दिखना शुरू हो गया है। मुंबई महानगरपालिका ने चौपाटी पर खतरे के निशान के तौर पर लाल झंडे के निशान लगाए हैं।

चक्रवाती तूफान के खतरे को देखते हुए महाराष्ट्र के तटीय इलाकों में राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) की टीमें तैनात कर दी गई हैं।

चक्रवात के मद्देनजर महाराष्ट्र में एनडीआरएफ टीम तैनात

सरकार ने गुजरात और महाराष्ट्र के कुछ तटीय इलाकों में तूफान के लिए अलर्ट

चक्रवात से निटपने के लिए NDRF की टीम पूरी तरह तैयार