दैनिक भास्कर हिंदी: द्रमुक सांसद ने सेतु समुद्रम परियोजना को पुनर्जीवित करने का अनुरोध किया

July 10th, 2020

हाईलाइट

  • द्रमुक सांसद ने सेतु समुद्रम परियोजना को पुनर्जीवित करने का अनुरोध किया

चेन्नई, 10 जुलाई (आईएएनएस)। लोकसभा सांसद और द्रमुक के वरिष्ठ नेता टी. आर. बालू ने चीन के खिलाफ देश के दक्षिणी हिस्से की सुरक्षा के लिए सेतु समुद्रम परियोजना को पुनर्जीवित करने का अनुरोध किया। बालू ने शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर चीन की ओर से श्रीलंका में भारी निवेश का हवाला देते हुए अनुरोध किया कि इस परियोजना को पुनर्जीवित किया जाए।

मोदी को लिखे पत्र में उन्होंने कहा, चीन के साथ मौजूदा संघर्ष के मद्देनजर, हमें यह समझने की आवश्यकता है कि पंजाब से उत्तर पश्चिम और उत्तर पूर्व में अरुणाचल प्रदेश तक हमारी लंबी सीमाओं के अलावा, दक्षिणी तटीय सीमा, विशेष रूप से तमिलनाडु और श्रीलंका के बीच समुद्र सुरक्षा के ²ष्टिकोण से काफी महत्वपूर्ण है।

बालू ने कहा, जिस तरह से चीन श्रीलंका के करीब जा रहा है, वह कभी हमारे राष्ट्रीय हित में नहीं होगा।

द्रमुक नेता के अनुसार, चीन ने विभिन्न परियोजनाओं में श्रीलंका में लगभग 7,04.8 करोड़ डॉलर लगाए हैं और हंबनटोटा बंदरगाह को चीन ने अपने कब्जे में ले लिया है।

बालू ने कहा, इन निवेशों ने श्रीलंका के लोगों को यह महसूस कराया है कि एक मित्र और सहयोगी के रूप में चीन भारत की तुलना में अधिक बेहतर है। इस तरह के परि²श्य में, हम श्रीलंका को जल्द ही एक और नेपाल बनने से इंकार नहीं कर सकते।

बालू ने दक्षिणी तमिलनाडु तट, विशेष रूप से एडम्स ब्रिज और सेतु समुद्रम क्षेत्रों के महत्व पर जोर दिया।

द्रमुक नेता ने कहा कि 2,400 करोड़ रुपये की सेतु समुद्रम परियोजना का उद्घाटन 2005 में किया गया था, लेकिन बाद में यह कई कारणों से सिरे नहीं चढ़ सकी, जिसे अब पुनर्जीवित करने की आवश्यकता है।

खबरें और भी हैं...