दैनिक भास्कर हिंदी: मप्र में नड्डा की रैली के जरिए भाजपा की संगठनात्मक ताकत दिखाने की कवायद

June 23rd, 2020

हाईलाइट

  • मप्र में नड्डा की रैली के जरिए भाजपा की संगठनात्मक ताकत दिखाने की कवायद

भोपाल, 23 जून (आईएएनएस)। मध्य प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी लगभग 15 माह के अंतराल के बाद सत्ता में आई है और पार्टी अपनी संगठनात्मक ताकत को बढ़ाने में लगी है। इन दिनों सार्वजनिक नहीं बल्कि सोशल मीडिया के प्लेटफार्म के जरिए बैठकें व रैलियां हो रही है। इसी क्रम में 25 जून को पार्टी अध्यक्ष जे पी नड्डा वर्चुअल रैली को संबोधित करने वाले है। इस रैली से एक करोड़ लोगों को जोड़ने का लक्ष्य तय कर पार्टी संगठन ने अपनी ताकत दिखाने की रणनीति बनाई है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दूसरे कार्याकाल का एक वर्ष पूरा होने पर सरकार की उपलब्धियों लोगों को बताई जा रही है। कोरोना संक्रमण के कारण सार्वजनिक आयोजन हो नहीं पा रहे है, लिहाजा पार्टी द्वारा सोशल मीडिया के विभिन्न प्लेटफार्म का उपयोग कर वर्चुअल बैठकें व रैलियां हो रही हैं। पार्टी के राष्टीय अध्यक्ष नड्डा 25 जून को वर्चुअल रैली के माध्यम से प्रदेश के पार्टी कार्यकर्ताओं, प्रबुद्घ नागरिकों को संबोधित करने वाले। इसके लिए पार्टी ने विशेष रणनीति पर काम करना शुरू कर दिया है।

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा ने बताया है कि मंडल स्तर पर विभिन्न वाट्सअप ग्रुपों के माध्यम से समाज के विभिन्न वर्ग इस रैली से जुड़ेंगे। इस रैली से जुड़ने के लिए एक लिंक दी जाएगी, जिसके माध्यम से पार्टी के बूथ स्तर तक के कार्यकर्ता तथा आम लोग रैली से जुड़ सकेंगे।

प्रदेशाध्यक्ष शर्मा का कहना है कि इस वर्चुअल रैली से पार्टी अध्यक्ष की लोकप्रियता को देखते हुए एक करोड़ लोगों को जोड़ने का लक्ष्य रखा गया है। भाजपा के प्रमुख नेता इस रैली के दौराना पार्टी के प्रदेश कार्यालय में मौजूद रहेंगे, वहीं मंडल व बूथ स्तर पर कार्यकर्ता इस रैली से जुड़ेंगे।

राजनीति के जानकारों का कहना है कि भाजपा ने जो दावा किया है, उसके मुताबिक अगर एक करोड़ लोग वर्चुअल रैली से जुड़ते है तो यह एक कीर्तिमान तो होगा ही साथ में भाजपा इस वर्चुअल रैली के जरिए अपनी संगठनात्मक ताकत दिखाने की कोशिश कर रही है। दावा पूरा होता है तो संगठनात्मक क्षमता भी नजर आ जाएगी।

खबरें और भी हैं...