दैनिक भास्कर हिंदी: नौतपा तीसरा दिन: दुनिया के 15 सबसे गर्म स्थानों में 10 भारत के, 50 डिग्री तक पहुंचा पारा

May 27th, 2020

हाईलाइट

  • राजस्थान के चुरु में मंगलवार को देश में सबसे अधिक तापमान दर्ज किया गया
  • पाकिस्तान का जकोबाबाद पृथ्वी पर सबसे गर्म स्थान रहा

डिजिटल डेस्क नई दिल्ली। कोरोना वायरस महासंकट के बीच पूरे देश में प्रचंड गर्मी का सितम जारी है। नौतपा के तीसरे दिन दुनिया के 15 सबसे गर्म शहरों में से भारत के 10 शहर रहे। वहीं पड़ोसी देश पाकिस्तान में भी लोग गर्मी से इसी तरह बेहाल हैं। जयपुर से महज 20 किलोमीटर उत्तर में स्थित राजस्थान के चुरु में मंगलवार को देश में सबसे अधिक तापमान दर्ज किया गया। यहां पारा 50 डिग्री सेल्सियस को छू गया। चुरु को थार रेगिस्तान का गेटवे कहा जाता है। पाकिस्तान का जकोबाबाद पृथ्वी पर सबसे गर्म स्थान रहा। भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) की मानें तो अगले सप्ताह तक केरल में मॉनसून दस्तक दे सकता है।

इस लिस्ट में राजस्थान के तीन और शहर बीकानेर, गंगानगर और पिलानी हैं। दो शहर उत्तर प्रदेश और महाराष्ट्र के थे। उत्तरप्रदेश के बांदा और हरियाणा के हिसार में भी तापमान 48 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। अन्य सबसे गर्म शहरों की बात करें तो दिल्ली में 47.6 डिग्री सेल्सियस, बिकानेर में 47.4 डिग्री सेल्सियस, गंगानगर में 47 डिग्री सेल्सियस, झांसी में 47 डिग्री सेल्सियस, पिलानी में 46.9 डिग्री सेल्सियस, नागपुर सोनेगांव में 46.8 डिग्री सेल्सियस और महाराष्ट्र के अकोला में 46.5 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया। चुरु में मई महीने में पिछले 10 सालों का यह दूसरा सबसे गर्म दिन था। इससे पहले 19 मई 2016 को यहां पारा 50.2 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचा था। चुरु में 22 मई से ही बहुत अधिक गर्मी है, उस दिन तापमान 46.6 डिग्री दर्ज किया गया था और इस दिन से लगातार तापमान बढ़ रहा है। राज्य में 2 और शहर कोटा और जैसलमेर में तापमान 45 डिग्री से अधिक रहा।

शहर/देश तापमान (डिग्री सेल्सियस)
चुरु  (भारत) 50
जकोकाबाद (पाकिस्तान) 50
नवाबशाह (पाकिस्तान) 49
पद इदान (पाकिस्तान) 49
बांदा (भारत) 48
हिसार (भारत) 48
रोहरी (पाकिस्तान)  48
सिबि (पाकिस्तान) 48
नई दिल्ली/पालम (भारत) 47.6
बिकानेर (भारत) 47.4
गंगानगर (भारत) 47
झांसी (भारत) 47
पिलानी (भारत) 46.9
नागपुर सोनेगांव (भारत) 46.9
सवाई माधोपुर (भारत) 46.6

भारतीय मौसम विभाग ने पूर्वानुमान जताया है कि उत्तर और मध्य भारत के कई हिस्सों में कहर बरपा रही लू (हीट वेव) के अभी अगले 24 घंटे तक लगातार चल सकती है। हालांकि, बंगाल की खाड़ी के कुछ हिस्सों में मानसून मजबूत हुआ है। उत्तर और मध्य भारत में पिछले कई दिनों से लू जारी है। कई जगहों पर तापमान 47 डिग्री सेल्सियस से ऊपर पहुंच गया है। मौसम विभाग ने कहा, उत्तर-पश्चिम भारत, मध्य भारत और पूर्वी भारत के निकटवर्ती आंतरिक हिस्सों और मैदानी भागों में जारी शुष्क उत्तर-पश्चिमी हवाओं के कारण अभी चल रही लू के अगले 24 घंटे तक जारी रहने का पूर्वानुमान है। विभाग ने गुजरात के विदर्भ और पश्चिम राजस्थान में अलग-अलग जगहों पर भीषण लू चल तल सकती है।

हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, पश्चिम उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश और पूर्वी राजस्थान के कुछ हिस्सों के साथ पंजाब, बिहार, झारखंड, ओडिशा, सौराष्ट्र व कच्छ, मध्य महाराष्ट्र व मराठवाड़ा, तेलंगाना के सुदूर इलाकों और कर्नाटक के उत्तरी आतंरिक इलाकों में अगले 24 घंटे तक लू चल सकती है। इसके साथ ही मौसम विभाग ने कहा कि पश्चिमी विक्षोभ से 29 और 30 मई को कुछ राहत मिलने की उम्मीद है। इस दौरान, उत्तर भारत के कुछ हिस्सों में धूल भरी आंधी और गरज के साथ छींटे पड़ने की संभावना भी है।

इन जगहों पर हो सकती है हलकी बारिश
वहीं, मौसम विभाग ने बुधवार की शाम को आगरा, मथुरा, टुंडला, फिरोजाबाद, एटा, राजस्थान के डीग, भरतपुर, हरियाणा के गोहाना व करनाल और इनके आसपास के इलाकों में बिजली गरजने के साथ हल्की बारिश होने की संभावना जताई है। 

खबरें और भी हैं...