हैदराबाद : हैदराबाद सामूहिक दुष्कर्म : यूट्यूबरों पर वीडियो क्लिप अपलोड करने का मामला दर्ज

June 7th, 2022

हाईलाइट

  • एमआईएम सांसद के बेटे की कथित संलिप्तता

डिजिटल डेस्क, हैदराबाद। हैदराबाद पुलिस ने सोमवार को जुबली हिल्स सामूहिक दुष्कर्म पीड़िता की एक वीडियो क्लिप कथित रूप से अपलोड करने और इस तरह सुप्रीम कोर्ट के दिशानिर्देशों का उल्लंघन करते हुए उसकी पहचान उजागर करने के आरोप में कुछ यूट्यूबरों के खिलाफ दो मामले दर्ज किए।

साइबर क्राइम विंग ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस ने पाया कि कुछ यूट्यूब चैनलों ने न केवल वीडियो क्लिप अपलोड की, बल्कि पैनलिस्टों को आमंत्रित कर एक बहस का आयोजन किया और इसे बार-बार चलाया। पुलिस ने एक यूट्यूबर को नोटिस जारी कर उसे थाने में पेश होने को कहा है।

यह कार्रवाई भाजपा विधायक एम. रघुनंदन राव द्वारा एक संवाददाता सम्मेलन में जारी किए जाने के बाद वीडियो क्लिप के सोशल मीडिया पर वायरल होने के दो दिन बाद हुई। क्लिप में एक विधायक के बेटे को एक कार में पीड़िता के साथ अंतरंग हरकत करते हुए देखा गया है। राव ने हालांकि इस बात से इनकार किया कि उन्होंने पीड़िता के नाम या पहचान का खुलासा किया। उन्होंने कहा कि वह घटना में एमआईएम सांसद के बेटे की कथित संलिप्तता के बारे में सबूत सार्वजनिक करना चाहते थे।

भाजपा नेता ने आरोप लगाया कि चूंकि पुलिस विधायक के बेटे को क्लीन चिट देकर जांच को पटरी से उतार रही है, इसलिए उन्होंने वीडियो क्लिप जारी किया। पुलिस द्वारा उनके खिलाफ कार्रवाई करने की खबरों के बीच राव ने सोमवार को संवाददाताओं से कहा कि वह मामले का सामना करने के लिए तैयार हैं। राव, वकील भी हैं। उन्होंने दावा किया कि वह उचित समय पर अपने पास मौजूद सभी सबूतों को अदालत में पेश करेंगे। इस बीच, तेलंगाना राज्य महिला आयोग ने सामूहिक दुष्कर्म का स्वत: संज्ञान लिया और पुलिस को घटना पर एक रिपोर्ट पेश करने का निर्देश दिया।

आयोग की अध्यक्ष सुनीता लक्ष्मा रेड्डी ने दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा देने की मांग की। उन्होंने कहा कि आयोग और राज्य सरकार पीड़िता के साथ खड़ी रहेगी। एक अन्य संबंधित घटनाक्रम में, भाजपा की युवा शाखा भाजयुमो के कार्यकर्ताओं ने 28 मई की घटना के सभी आरोपियों की तत्काल गिरफ्तारी की मांग करते हुए हैदराबाद और राज्य के अन्य स्थानों पर विभिन्न स्थानों पर विरोध प्रदर्शन किया।

भाजयुमो ने आरोप लगाया कि सरकार और पुलिस दोषियों को बचाने की कोशिश कर रही है। भाजयुमो ने जुबली हिल्स चेकपोस्ट और संगीत चौराहे पर विरोध प्रदर्शन किया। उन्होंने मांग की कि मामले को केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) को सौंप दिया जाए। पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिया और उन्हें थाने भेज दिया। इसी तरह का विरोध पड़ोसी रंगारेड्डी जिले के शादनगर में भी किया गया।

पुलिस सनसनीखेज मामले में तीन नाबालिगों समेत चार आरोपियों को पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है, जबकि पांचवां आरोपी अब भी फरार है। गिरफ्तार किशोरों में सत्तारूढ़ तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) के एक नेता का बेटा भी शामिल है। लड़की एक पब में हुई पार्टी में शामिल हुई थी। आरोपियों ने घर छोड़ने का वादा करने के बाद एक कार में उसका यौन उत्पीड़न किया।

 

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ bhaskarhindi.com की टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.