दैनिक भास्कर हिंदी: मोदी सरकार के सातवें वर्ष में भारत दोराहे पर खड़ा : कांग्रेस

May 30th, 2020

हाईलाइट

  • मोदी सरकार के सातवें वर्ष में भारत दोराहे पर खड़ा : कांग्रेस

नई दिल्ली, 30 मई (आईएएनएस)। कांग्रेस ने शनिवार को नरेंद्र मोदी सरकार के छह साल पूरे करने पर निशाना साधते हुए कहा कि देश सरकार के सातवें साल में दोराहे पर खड़ा है और लोग सरकार के पाप के बोझ तले दबकर कमजोर पड़ते जा रहे हैं।

एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कांग्रेस महासचिव के.सी. वेणुगोपाल ने कहा, मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला साल निराशा, विनाशकारी प्रबंधन और जबरदस्त दर्द का साल रहा है।

उन्होंने कहा कि सातवें वर्ष की शुरुआत में, भारत दोराहे पर खड़ा है।

कांग्रेस नेता ने कहा, इस सरकार के पापों के भार से, अयोग्यता से और बेरहमी से नागरिक कमजोर पड़ थक गए हैं।

पिछले छह वर्षों में सरकार के प्रदर्शन की निंदा करते हुए, वेणुगोपाल ने कहा, पिछले छह वर्षों में, भारत ने व्याकुलता और झूठे शोर की राजनीति में नियमित रूप से वृद्धि देखी है, इस पड़ाव पर यह मोदी सरकार की प्रशासनकि शैली का एक परिभाषित मुख्य आधार बन गया है।

उन्होंने कहा कि जहां इसने भाजपा के राजनीतिक हितों के लिए काम किया है, वहीं देश को जबरदस्त आर्थिक और सामाजिक कीमत चुकानी पड़ी है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए वेणुगोपाल ने कहा कि असाधारण वादों को याद रखने में मोदी अच्छा करेंगे। उन्होंने कहा कि सरकार ने बड़े अपनी क्षमता से परे बड़े-बड़े वादे किए लेकिन नाममात्र के वादे ही पूरे किए।

कांग्रेस ने आर्थिक मोर्चे पर सरकार की विफलता पर भी प्रकाश डाला और कहा कि प्रधानमंत्री ने दो करोड़ नौकरियों की घोषणा की, जबकि भारत में पिछले 45 वर्षों में सबसे अधिक बेरोजगारी दर देखी गई जो 2017-18 में बढ़कर कुल 6.1 प्रतिशत हो गई । यह 7.8 प्रतिशत शहरी भारत में और ग्रामीण भारत में 5.3 प्रतिशत तक हो गई।

उन्होंने कहा कि कोविड के बाद भारत की बेरोजगारी दर 27.11 प्रतिशत तक बढ़ गई है।

खबरें और भी हैं...