comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

झारखंड : रियायत के बाद शहर से ज्यादा कस्बे गुलजार, महंगी हुई शराब

May 20th, 2020 13:30 IST
 झारखंड : रियायत के बाद शहर से ज्यादा कस्बे गुलजार, महंगी हुई शराब

हाईलाइट

  • झारखंड : रियायत के बाद शहर से ज्यादा कस्बे गुलजार, महंगी हुई शराब

रांची, 20 मई (आईएएनएस)। कोरोना संक्रमण के दौर में लॉकडाउन-4 में राज्य में मिली रियायत के बाद राज्य के नगर निगम के क्षेत्रों से ज्यादा कस्बे और ग्रामीण क्षेत्र गुलजार हैं। इस बीच सरकार ने शराब की बिक्री प्रारंभ कर दी है। सरकार ने शराब की कीमतों में वृद्घि करते हुए होम डिलिवरी की सुविधा दी है। इधर, उद्योगों के खुलने के आदेश के बाद कुछ इकाइयों में काम शुरू हो चुका है।

सरकार ने औद्योगिक क्षेत्र में औद्योगिक गतिविधियां, निर्माण कार्य, इससे जुड़ी सभी सामग्री मसलन ईट, सीमेंट, छड़, गोदाम, माल गोदाम को खोलने और ट्रांसपोर्टेशन में छूट दी है, जबकि सरकार के आदेश के बाद हार्डवेयर, बिजली, सेनेटरीवेयर, ग्लास, प्लाइवुड, टाइल्स व टिंबर की दुकानें भी खुल गई है।

किताबें व स्टेशनरी की दुकानें भी गुलजार हुई हैं। इधर, नगर निगम क्षेत्र को छोड़कर पूरे जिले में मोबाइल, घड़ियां, इलेक्ट्रनिक्स जैसे टेलीविजन, सूचना प्रौद्योगिकी (आइटी) से जुड़े उत्पाद जैसे कंप्यूटर, रेफ्रीजरेटर, एयर कंडीशनर, कूलर आदि की दुकानें खुलने से शहर से ज्यादा कस्बों और ग्रामीण क्षेत्रों में बाजार गुलजार हैं।

इस बीच, रांची में औद्योगिक गतिविधियां प्रारंभ हो गई हैं। रांची के कोकर, तुपुदाना, टाटीसिलवे, नामकुम की दो दर्जन से अधिक फैक्ट्रियों में कर्मचारी पहुंचने लगे हैं और उत्पादन के पूर्व गतिविधियां प्रारंभ कर दी है।

हालांकि , उद्यमी बाजार बंद होने के कारण संशय की स्थिति में हैं। उद्यमियों का कहना है कि बाजार बंद होने से सामानों की मांग कहां होगी। कुछ उद्यमी हार्डवेयर, निर्माण कार्य प्रारंभ होने से आशान्वित भी दिखे।

झारखंड चैंबर ऑफ कॉमर्स के महासचिव धीरज तनेजा भी कहते हैं, कोई भी उद्यमी यह नहीं चाहेगा कि वह अपने कामगारों को बैठाकर वेतन दें। उम्मीद है कि अब कंपनियां धीरे-धीरे खुलेंगी। निर्माण कार्य प्रारंभ होने से मजदूरों को काम मिलेगा और बाजार गति पकड़ेगा।

इधर, सरकार ने शराब बिक्री प्रारंभ करने का निर्णय लिया है। बुधवार से शराब बिक्री प्रारंभ हो गई, हालांकि लोगों को पहले की तुलना में इसके लिए ज्यादा पैसे चुकाने पड़ रहे हैं। राज्य सरकार ने शराब की कीमतों में 25 फीसदी तक की वृद्घि कर दी है। राज्य में शराब की बिक्री सुबह सात बजे से शाम सात बजे तक तीन माध्यमों से जाएगी। इसमें काउंटर सेल, होम डिलिवरी और ई-टोकन सिस्टम शामिल हैं।

उत्पाद आयुक्त विनय चौबे ने बताया कि राज्य के नौ बड़े शहरों में दुकानों से और जोमैटो तथा स्वीगी से शराब की होम डिलिवरी होगी। इन शहरों में रांची, बोकारो, धनबाद, देवघर, गिरिडीह, जमशेदपुर, हजारीबाग, रामगढ़ और मेदिनीनगर शामिल हैं। आने वाले दिनों में होम डिलिवरी चलाने वाली और भी कंपनियों को जोड़ा जाएगा।

उन्होंने बताया, 15 जिला मुख्यालयों में शराब की बिक्री दुकानों से और ई-टोकन सिस्टम से भी की जाएगी जबकि ग्रामीण इलाकों में शराब की बिक्री सिर्फ दुकानों से ही होगी।

उत्पाद आयुक्त ने बताया कि शराब में वैट 50 प्रतिशत से बढ़ाकर 75 प्रतिशत कर दिया गया है। साथ ही स्पेशल एक्साइज डयूटी 10 प्रतिशत बढ़ाया गया है। उन्होंने कहा कि शराब दुकानदारों के लिए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाना अनिवार्य किया गया है।

कमेंट करें
C8vXn
NEXT STORY

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। किसी के लिए भी प्रॉपर्टी खरीदना जीवन के महत्वपूर्ण कामों में से एक होता है। आप सारी जमा पूंजी और कर्ज लेकर अपने सपनों के घर को खरीदते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि इसमें इतनी ही सावधानी बरती जाय जिससे कि आपकी मेहनत की कमाई को कोई चट ना कर सके। प्रॉपर्टी की कोई भी डील करने से पहले पूरा रिसर्च वर्क होना चाहिए। हर कागजात को सावधानी से चेक करने के बाद ही डील पर आगे बढ़ना चाहिए। हालांकि कई बार हमें मालूम नहीं होता कि सही और सटीक जानकारी कहा से मिलेगी। इसमें bhaskarproperty.com आपकी मदद कर सकता  है। 

जानिए भास्कर प्रॉपर्टी के बारे में:
भास्कर प्रॉपर्टी ऑनलाइन रियल एस्टेट स्पेस में तेजी से आगे बढ़ने वाली कंपनी हैं, जो आपके सपनों के घर की तलाश को आसान बनाती है। एक बेहतर अनुभव देने और आपको फर्जी लिस्टिंग और अंतहीन साइट विजिट से मुक्त कराने के मकसद से ही इस प्लेटफॉर्म को डेवलप किया गया है। हमारी बेहतरीन टीम की रिसर्च और मेहनत से हमने कई सारे प्रॉपर्टी से जुड़े रिकॉर्ड को इकट्ठा किया है। आपकी सुविधाओं को ध्यान में रखकर बनाए गए इस प्लेटफॉर्म से आपके समय की भी बचत होगी। यहां आपको सभी रेंज की प्रॉपर्टी लिस्टिंग मिलेगी, खास तौर पर जबलपुर की प्रॉपर्टीज से जुड़ी लिस्टिंग्स। ऐसे में अगर आप जबलपुर में प्रॉपर्टी खरीदने का प्लान बना रहे हैं और सही और सटीक जानकारी चाहते हैं तो भास्कर प्रॉपर्टी की वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।

ध्यान रखें की प्रॉपर्टी RERA अप्रूव्ड हो 
कोई भी प्रॉपर्टी खरीदने से पहले इस बात का ध्यान रखे कि वो भारतीय रियल एस्टेट इंडस्ट्री के रेगुलेटर RERA से अप्रूव्ड हो। रियल एस्टेट रेगुलेशन एंड डेवेलपमेंट एक्ट, 2016 (RERA) को भारतीय संसद ने पास किया था। RERA का मकसद प्रॉपर्टी खरीदारों के हितों की रक्षा करना और रियल एस्टेट सेक्टर में निवेश को बढ़ावा देना है। राज्य सभा ने RERA को 10 मार्च और लोकसभा ने 15 मार्च, 2016 को किया था। 1 मई, 2016 को यह लागू हो गया। 92 में से 59 सेक्शंस 1 मई, 2016 और बाकी 1 मई, 2017 को अस्तित्व में आए। 6 महीने के भीतर केंद्र व राज्य सरकारों को अपने नियमों को केंद्रीय कानून के तहत नोटिफाई करना था।