comScore

झारखंड चुनाव : पार्टियों के रहनुमाओं की अग्निपरीक्षा

झारखंड चुनाव : पार्टियों के रहनुमाओं की अग्निपरीक्षा

हाईलाइट

  • पार्टियों ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी
  • स्टार प्रचारकों का प्रतिदिन झारखंड में दौरा हो रहा है

डिजिटल डेस्क, रांची। विधानसभा चुनाव में बचे चार चरणों के मतदान को लेकर अब सभी पार्टियों ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। राष्ट्रीय पार्टियों के स्टार प्रचारकों का प्रतिदिन झारखंड में दौरा हो रहा है, वहीं क्षेत्रीय दलों के प्रमुख भी अपने-अपने प्रत्याशियों को मतदाताओं से विजयी भव का आशीर्वाद दिलवाने के लिए इस ठंड में भी पसीना बहा रहे हैं। कई राष्ट्रीय और क्षेत्रीय दलों के प्रदेश अध्यक्ष और अध्यक्ष भी चुनाव मैदान में हैं। लिहाजा एक तरफ उन्हें अपनी प्रतिष्ठा बचाने के लिए अपनी सीट पर मशक्कत करनी पड़ रही है, वहीं अपनी पार्टी के अन्य प्रत्याशियों के लिए भी उन्हें प्रचार करना है। ऐसे में ऐसे लोगों के सामने एक कठिन चुनौती है, जो उनकी अग्निपरीक्षा से कम नहीं है।

झारखंड में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुवा चक्रधरपुर सीट से चुनाव मैदान में हैं। गिलुवा के लिए पार्टी अध्यक्ष अमित शाह भी चुनावी सभा को संबोधित कर मतदाताओं से वोट देने की अपील कर चुके हैं। गिलुवा भी लोकसभा चुनाव में हार के बाद विधानसभा जाने के लिए पूरा जोर लगा रहे हैं। कांग्रेस के वर्तमान प्रदेश अध्यक्ष रामेश्वर उरांव भी लोहरदगा सीट से चुनाव मैदान में हैं। लोहरदगा सीट पर प्रथम चरण के मतदान में मतदाताओं ने अपना फैसला ईवीएम में कैद कर दिया है, मगर कहा जाता है कि प्रदेश कांग्रेस के वर्तमान अध्यक्ष रामेश्वर उरांव और भाजपा प्रत्याशी सुखदेव भगत के बीच कांटे की टक्कर है।

झामुमो के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन भी चुनावी मैदान में हैं। हेमंत दुमका और बरहेट विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ रहे हैं। ऑल झारखंड स्टूडेंट यूनियन (आजसू) के अध्यक्ष सुदेश महतो भी इस चुनाव में अपनी परंपरागत सीट सिल्ली से ही चुनाव लड़ रहे हैं। पिछले चुनाव में हालांकि महतो को यहां से हार का मुंह देखना पड़ा था। इस कारण सिल्ली से महतो की प्रतिष्ठा एकबार फिर दांव पर है। इस बीच, जनता दल (युनाइटेड) के प्रदेश अध्यक्ष सालखन मुर्मू भी मझगांव सीट से चुनावी मैदान में खम ठोक रहे हैं।

वर्तमान अध्यक्षों के अलावा पूर्व अध्यक्ष भी चुनावी मैदान में अपने भाग्य आजमा रहे हैं। दीगर बात है कि पूर्व हुए नेता अब नई पार्टी का दामन थाम चुनावी दंगल में उतरे हुए हैं। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष रहे सुखदेव भगत भाजपा के टिकट पर लोहरदगा से चुनावी मैदान में हैं, जबकि पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष प्रदीप बालमुचू आजसू के टिकट पर घाटशिला चुनावी खम ठोक रहे हैं। झारखंड में 81 सदस्यीय विधानसभा के लिए चुनाव पांच चरणों में हो रहे हैं। 30 नवंबर को प्रथम चरण का मतदान हो चुका है, अब 7, 12, 16 और 20 दिसंबर को मतदान होना है। मतगणना 23 दिसंबर को होगी।

कमेंट करें
vfDSO