comScore

झारखंड: हेमंत सोरेन ने 50 विधायकों के साथ पेश किया सरकार बनाने का दावा, 29 को लेंगे शपथ

December 25th, 2019 08:11 IST

हाईलाइट

  • हेमंत सोरेन ने झारखंड की राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू से मुलाकात की
  • 50 विधायकों के समर्थन के साथ सरकार बनाने इजाजत मांगी
  • शपथ ग्रहण समारोह में विपक्ष के राष्ट्रीय स्तर के नेताओं को बुलाया जाएगा

डिजिटल डेस्क, रांची। झारखंड मुक्ति मोर्चा (JMM) अध्यक्ष सोरेन ने 50​ विधायकों के समर्थन के साथ मंगलवार को प्रदेश की राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू से मुलाकात कर सरकार बनाने का दावा पेश किया। झारखंड विधानसभा चुनाव में शानदार जीत के बाद जेएमएम-कांग्रेस-आरजेडी गठबंधन के विधायक दल के नेता सोरेन ने ऐलान किया कि वे 29 दिसंबर को प्रदेश के सीएम पद की शपथ लेंगे।

राज्यपाल मुर्मू से मुलाकात के दौरान सोरेन के साथ आरजेडी नेता तेजस्वी यादव, कांग्रेस के झारखंड प्रभारी आरपीएन सिंह और जेवीएम नेता बाबूलाल मरांडी मौजूद थे। मीटिंग के बाद सोरेन ने कहा कि हमने 50 विधायकों के समर्थन के साथ झारखंड में सरकार बनाने का दावा किया है। हमने राज्यपाल से निवेदन किया है कि वह हमें प्रदेश में सरकार बनाने के लिए आमंत्रित करें। 

राहुल से होगी सरकार की संरचना पर चर्चा
सरकार की संरचना के बारे में पूछे जाने पर कांग्रेस के झारखंड प्रभारी आरपीएन सिंह और हेमंत सोरेन ने बताया कि इसपर विस्तृत चर्चा कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी के साथ मुलाकात के बाद होगी। इससे पहले जेएमएम ने मंगलवार को शिबू सोरेन के आवास पर पार्टी के नवनिर्वाचित विधायकों की बैठक बुलाई है जो इस समय जारी है। बता दें कि हालिया झारखंड विधानसभा चुनावों में जेएमएम-कांग्रेस-आरजेडी गठबंधन को 81 में से 47 सीटें मिली हैं।

मरांडी का साथ मिला
इससे पहले झारखंड मुक्ति मोर्चा के अध्यक्ष हेमंत सोरेन ने पूर्व सीएम और झारखंड विकास मोर्चा के प्रमुख बाबूलाल मरांडी से मुलाकात की। इस दौरान बाबूलाल मरांडी ने कहा कि हमारी पार्टी हेमंत सोरेन का बिना शर्त समर्थन करेगी, क्योंकि उनके पास आवश्यक बहुमत है।


दिनेश उरांव का इस्तीफा
इधर, नई सरकार के गठन से पहले झारखंड विधानसभा अध्यक्ष दिनेश उरांव ने इस्तीफा दे दिया है। वह सिसई सीट से बीजेपी के उम्मीदवार थे। उरांव इस सीट से इस बार चुनाव हार गए। उन्हें जेएमएम के जिग्गा होरो ने 38 हजार मतों के अंतर से हरा दिया। 

कमेंट करें
ofn3O