दैनिक भास्कर हिंदी: भीमा कोरेगांव : दंगा भड़काने के आरोप में मिलिंद एकबोटे गिरफ्तार

March 14th, 2018

डिजिटल डेस्क, पुणे। कोरेगांव भीमा में दंगे भड़काने के प्रकरण में आखिरकार मिलिंद एकबोटे को गिरफ्तार कर ही लिया गया है। बुधवार को यह कार्रवाई करते हुए मिलिंद को उनके पुणे के शिवाजीनगर स्थित घर से गिरफ्तार किया गया। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने मिलिंद की जमानत की अर्जी को खारिज कर दिया था। इसके बाद आदेशानुसार पुणे जिला ग्रामीण पुलिस के दस्ते ने तत्काल उक्त कार्रवाई की और उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया।

गौरतलब है कि 1 जनवरी को पुणे जिले के कोरेगांव भीमा स्थित विजयस्तंभ को अभिवादन करने के लिए राज्य से हजारों की तादाद मंे नागरिक आए हुए थे। इस समय दो समाज के गुटों में घमासान हुआ। पथराव, आगजनी की घटनाओं को अंजाम दिया गया। इसमें राहुल फटांगले नामक युवक की मौत हो गई। समस्त हिंदू आघाड़ी के संस्थापक कार्याध्यक्ष मिलिंद एकबोटे तथा शिव प्रतिष्ठान के संभाजी भिड़े गुरूजी पर शिक्रापुर पुलिस थाने में एट्रोसिटी, दंगे भड़काना के तहत मामला दर्ज किया गया।

इस मामले में अंतरिम जमानत मिलने के लिए एकबोटे ने पहले पुणे सत्र न्यायालय में अर्जी दी थी जो खारिज की गई। एकबोटे ने इसके विरोध में उच्च न्यायालय में अर्जी दी लेकिन वहां भी उनकी अर्जी खारिज की। उसके बाद एकबोटे ने सुप्रीम कोर्ट से गुहार की। उनकी अर्जी पर बुधवार को अंतिम सुनवाई हुई। एकबोटे मामले की जांच में सहयोग नहीं दे रहे इस राज्य सरकार की रिपोर्ट को गंभीरता से लेते हुए न्यायालय ने एकबोटे की अर्जी खारिज की। उसके बाद तत्काल पुलिस ने एकबोटे को गिरफ्तार किया।

बता दें कि पिछली सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट ने महाराष्ट्र के भीमा-कोरेगांव में हिंसा की घटना के मुख्य आरोपी मिलिन्द एकबोटे को बड़ी राहत दी थी। कोर्ट ने एकबोटे को गिरफ्तारी से अंतिरम संरक्षण प्रदान कर दिया है। भीमा-कोरेगांव में एक जनवरी को हुयी इस हिंसा में एक व्यक्ति की मृत्यु हो गई थी।