comScore

Lockdown Effect: अब यह ऐप करेगा छात्रों की पढ़ाई में मदद, घर बैठे मोबाइल पर मिलेगी नीट-जेईई की कोचिंग

Lockdown Effect: अब यह ऐप करेगा छात्रों की पढ़ाई में मदद, घर बैठे मोबाइल पर मिलेगी नीट-जेईई की कोचिंग

हाईलाइट

  • मोबाइल फोन पर मिलेगी नीट और जेईई की कोचिंग

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। दिल्ली समेत देशभर के तमाम कोचिंग इंस्टीट्यूट फिलहाल बंद हैं। वहीं दूसरी ओर जेईई मेन और नीट प्रतियोगी परीक्षाओं की तारीख घोषित की जा चुकी है। देश भर के लाखों ऐसे छात्र जो इन प्रतियोगी परीक्षाओं में शामिल हो रहे हैं अब अपने मोबाइल फोन पर ही इन परीक्षाओं से जुड़ी कोचिंग हासिल कर सकते हैं। राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी ने मोबाइल ऐप तैयार किया है। इस मोबाइल ऐप का नाम अभ्यास है। राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी द्वारा तैयार किया गया यह ऐप परीक्षार्थियों को कंप्यूटर बेस्ड टेस्ट के बारे में जानकारी देगा।

प्ले स्टोर से डाउनलोड करें ऐप
गूगल प्ले स्टोर पर जाकर कर यह ऐप डाउनलोड किया जा सकता है। जल्द ही इसका आईओएस वर्जन भी आएगा। केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा, यह मोबाइल ऐप नीट और जेईई मेन मेन परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों की पढ़ाई में मदद करेगा। छात्र इस मोबाइल ऐप की मदद से 3 घंटे का मॉक टेस्ट दे सकते हैं वह भी अपनी सुविधा एवं समय अनुसार। इस मोबाइल ऐप की मदद से छात्र अपनी प्रोग्रेस पर भी नजर रख सकते हैं। यह ऐप सही उत्तर पूरे एक्सप्लेनेशन के साथ बताएगा।

राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी द्वारा तैयार किया गया यह ऐप फिजिक्स, केमिस्ट्री और गणित के विषयों की विशेष जानकारी एवं कोचिंग मुहैया कराएगा। जेईई एवं नीट की परीक्षा की तिथियों घोषित कर दी गई हैं। 18 से 23 जुलाई के बीच जेईई मेन की परीक्षाएं ली जाएंगी। वहीं 26 जुलाई को नीट की परीक्षा ली जाएगी। इनके अलावा अब जेईई एडवांस परीक्षा की तारीख भी घोषित कर दी गई है। यह परीक्षा 23 अगस्त को ली जाएगी।

जेईई मेन की परीक्षाएं 18 जुलाई से 23 जुलाई तक होंगी। नीट प्रतियोगी परीक्षा के लिए 16.84 लाख अभ्यार्थियों ने फॉर्म भरा है यह परीक्षा 26 जुलाई को आयोजित की जाएगी। जेईई मैन की परीक्षाएं करवाए जाने के बाद जेईई एडवांस की परीक्षाएं 23 अगस्त को आयोजित की जाएंगी।

नीट जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं में छात्रों को अपनी पसंद का परीक्षा केंद्र चुनने की सुविधा प्रदान की गई है। कोरोना संक्रमण को देखते हुए अब अधिकांश छात्रों को प्रवेश परीक्षाएं देने के लिए दूसरे शहरों में नहीं जाना पड़ेगा। ऐसे छात्र जो फॉर्म भर चुके हैं उन्हें भी अपनी पसंद का परीक्षा का केंद्र चुनने का एक और अवसर दिया गया है।

कमेंट करें
PXUrR