दैनिक भास्कर हिंदी: NCP का किसान आंदोलन को समर्थन, पवार ने कहा- अधिक आक्रामक हों किसान

June 4th, 2018

डिजिटल डेस्क, मुंबई। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) अध्यक्ष शरद पवार ने किसान आंदोलन का समर्थन करते किसानों को अधिक आक्रामक होने की सलाह दी है। सोमवार को पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा कि सरकार ने किसानों को दिया आश्वासन पूरा नहीं किया। सरकार की नियति में खोट है। पवार ने किसानों का आह्वान किया कि वे संघर्ष तेज करें लेकिन, दूध, फल व सब्जियां सड़क पर फेकने के बजाए गरीबों में वितरित करें जिससे उन्हें लोगों की सहानुभूति मिलेगी।

मुख्यमंत्री ने किया सत्ता का दुरुपयोग
पवार ने कहा कि मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने उपचुनाव के दौरान साम-दाम-दंड-भेद पर अमल किया है। NCP अध्यक्ष ने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री ने सत्ता का दुरुपयोग किया है। चुनाव के दौरान किसानों को मदद राशि बांटने के लिए बैंक खोले गए। जिससे पता चलता है कि सरकार में बैठे लोग किसी भी तरह चुनाव जीतना चाहते थे। उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग ने फैसला लिया है कि गोंदिया के तत्कालिन जिलाधिकारी को अगले 8 से 10 वर्षों तक चुनाव संबंधी कार्य न दिए जाए। इस लिए सरकार को ऐसे अधिकारी को सरकारी सेवा में नहीं रखना चाहिए। इस अधिकारी के खिलाफ कठोर कार्रवाई होनी चाहिए।

NCP सुप्रीमों ने कहा कि पालघर उपचुनाव में भले ही भाजपा जीत कई पर लेकिन शिवसेना और हितेंद्र ठाकुर की पार्टी को उससे अधिक वोट मिले हैं। इससे पता चलता है कि यहां भाजपा के खिलाफ मतदान हुआ है। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में विश्वास रखने वाले सभी लोगों को भाजपा के खिलाफ एकजुट होना चाहिए।

100 चूहे खा कर बिल्ली हज को चली: पाशा पटेल
राज्य कृषि मूल्य आयोग के अध्यक्ष पाशा पटेल ने पवार के बयान पर नाराजगी जताते हुए कहा कि 10 साल तक देश के कृषि मंत्री रहे पवार ने किसानों के लिए कुछ नहीं किया। उनकी हालत सौ चूहे खा कर बिल्ली हज को चली। पटेल ने कहा कि यदि उन्होंने बतौर केंद्रीय कृषि मंत्री किसानों के लिए कुछ किया होता तो 3 लाख किसान आत्महत्या नहीं करते। किसान आत्महत्या उनकी सरकार का पाप है।