दैनिक भास्कर हिंदी: पीएम मोदी बोले- बिना मास्क के घूमते लोगों की तस्वीरें सुखद दृश्य नहीं, सभी को याद रखना चाहिए की कोविड-19 का खतरा टला नहीं

July 9th, 2021

हाईलाइट

  • पीएम ने लोगों की भीड़ और बिना मास्क के लोगों के घूमने पर चिंता व्यक्त की
  • कोविड के कम होते मामलों के बादजूद किसी भी लापरवाही के लिए कोई जगह नहीं
  • लोगों को शिक्षित करने की आवश्यकता है कि महामारी समाप्त नहीं हुई

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को अपनी मंत्रिपरिषद की बैठक में सार्वजनिक स्थानों पर लोगों की भीड़ और बिना मास्क के लोगों के घूमने पर चिंता व्यक्त की। उन्होंने जोर देकर कहा कि कोविड के कम होते मामलों के बादजूद किसी भी लापरवाही के लिए कोई जगह नहीं है। पीएम मोदी ने अपने मंत्रियों से कहा कि लोगों को शिक्षित करने की आवश्यकता है कि महामारी समाप्त नहीं हुई है। कोई भी ढिलाई मामलों में तेजी ला सकती है। सूत्रों के हवाले से कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में ये बात कही गई है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक पीएम मोदी ने कहा, पिछले कुछ दिनों से हम सभी भीड़-भाड़ वाली जगहों और बिना मास्क या सोशल डिस्टेंसिंग के घूम रहे लोगों की तस्वीरें और वीडियो देख रहे हैं। यह सुखद दृश्य नहीं है। पीएम ने इस बात पर जोर दिया कि ऐसे समय में लापरवाही के लिए कोई जगह नहीं होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि एक भी गलती के दूरगामी प्रभाव होंगे और कोविड-19 पर काबू पाने की लड़ाई कमजोर होगी। प्रधानमंत्री ने कहा कि सभी को याद रखना चाहिए की कोविड-19 का खतरा टला नहीं है। कई अन्य राष्ट्रों में संक्रमण में वृद्धि देखी जा रही है और वायरस भी म्यूटेट हो रहा है। 

पीएम ने ये भी कहा कि मंत्रियों के रूप में, हमारा उद्देश्य भय पैदा करना नहीं होना चाहिए, बल्कि लोगों से हर संभव सावधानी बरतने का अनुरोध करना चाहिए ताकि हम आने वाले समय में इस महामारी से आगे बढ़ सकें। पीएम ने महाराष्ट्र और केरल में लगातार बढ़ते मामलों पर भी चिंता व्यक्त की। प्रधानमंत्री ने देश के कोविड योद्धाओं और फ्रंट लाइन वर्कर्स का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि वैश्विक महामारी के खिलाफ भारत की लड़ाई पूरे जोश के साथ लड़ी जा रही है। वहीं पीएम ने कहा कि देश लगातार अपनी आबादी की एक बड़ी संख्या का टीकाकरण कर रहा है और टेस्टिंग भी हाई है। 

खबरें और भी हैं...