दैनिक भास्कर हिंदी: प्रेस कॉन्फ्रेंस में रोते हुए बोले - मेरे एनकाउंटर की हो रही साजिश

January 16th, 2018


डिजिटल डेस्क, अहमदाबाद। सोमवार को अचानक गायब हुए विश्व हिंदू परिषद के नेता प्रवीण तोगड़िया ने मंगलवार सुबह होश में आने के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस की। प्रेस कॉन्फ्रेंस में उन्होंने कहा कि वो खुद ही राजस्थान पुलिस की गिरफ्तारी  से बचने के लिए गायब हो गए थे। रोते हुए तोगड़िया ने कहा कि उनके एनकाउंटर की साजिश हो रही है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि उनकी आवाज को दबाया जा रहा है और उन्हें डराने की कोशिश की जा रही है। 

                       VHP leader Pravin Togadia says, Several attempts my encounter and being made to suppress my voice
 

'मेरे एनकाउंटर की साजिश'

मंगलवार को मीडिया के सामने आए तोगड़िया प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए भावुक हो गए। उन्होंने रोते हुए कहा कि एक अंजान शख्स ने घर में आकर उन्हें बताया कि उनके एनकाउंटर की साजिश रची गई है। इसके बाद शक होने पर वो अपनी सुरक्षा में तैनात सिक्योरिटी के बिना ऑटो में सवार हो गए। पुलिस को मेरी लोकेशन न मिल सके, इसलिए मैंने अपना फोन भी बंद कर लिया था।


'आवाज को दबाने की कोशिश'

VHP प्रमुख प्रवीण तोगड़िया ने कहा कि कुछ समय से मेरी आवाज दबाने की कोशिश की जा रही है। मैं हिंदू एकता के लिए कोशिश करता रहा हूं। कई वर्षों से हिंदुओं की जो आवाज थी, राम मंदिर-गोहत्या का कानून, कश्मीरी हिंदूओं को बसाने की मांग की। मेरे खिलाफ कानून भंग करने के मामले दर्ज किए गए। इसी क्रम में राजस्थान पुलिस मकर संक्राति के दिन मुझे गिरफ्तार करने आई थी।
 

'खुद करूंगा सरेंडर'

अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस में तोगड़िया ने कहा कि डॉक्टर कह रहे है कि लंबे समय से बेहोशी के कारण मेरी पल्स अनियमित है। जब डॉक्टर अमुमित देंगे, जयपुर जाकर कोर्ट के सामने सरेंडर करूंगा। तोगड़िया ने कहा कि  मेरा गुजरात पुलिस से सिर्फ यह कहना है कि मेरे रूम का सर्च वारंट क्यों करने जा रहे थे, क्या मैं अपराधी हूं? तोगड़िया ने कहा कि इसके बाद मैंने तय किया कि मैं खुद इसके खिलाफ कोर्ट जाऊंगा। मैं फ्लाइट पकड़ने के लिए एयरपोर्ट की ओर बढ़ा। इस बीच तबीयत बिगड़ गई। चक्कर आने के साथ ही पसीना आने लगा। इसके बाद मैं बेहोश हो गया। इसके बाद क्या हुआ मुझे नहीं पता।
 

राजस्थान सीएम, गृहमंत्री से की बात

तोगड़िया ने अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि घर से निकलने के बाद उन्होंने राजस्थान के मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया और गृहमंत्री से भी बात की। उन्होंने बताया कि गिरफ्तारी को लेकर उनके पास कोई जानकारी नहीं है। अगर आपकी गिरफ्तारी की बात होती तो हमें पता होता। 

बेहोशी की हालत में मिले थे

गौरतलब है कि सोमवार शाम को विश्व हिंदू परिषद के नेता प्रवीण तोगड़िया अहमदाबाद के शाही बाग में बेहोशी की हालत में मिले थे। उन्हें तुरंत अहमदाबाद के चंद्रमणी अस्पताल में भर्ती कराया गया था।डॉक्टर ने बताया कि जब उन्हें अस्पताल लाया गया तब वे बेहोश थे। शुगर लेवल कम होने की वजह से वे बेहोश हो गए थे।

                        

पुराने मामले में राजस्थान पुलिस गिरफ्तारी के लिए पहुंची थी

बता दें राजस्थान के एक पुराने मामले में प्रवीण तोगड़िया को गिरफ्तार करने सोमवार को अहमदाबाद पहुंची पुलिस टीम को खाली हाथ वापस लौटना पड़ा था। पुलिस के पहुंचने से पहले ही तोगड़िया कार्यालय से निकल गए थे। सुबह से चल रहे इस घटनाक्रम में विश्व हिंदू परिषद (विहिप) के कार्यकर्ताओं का कहना था कि उनके नेता प्रवीण तोगड़िया को गिरफ्तार कर लिया गया है। इस बात हो लेकर विहिप कार्यकर्ता सुबह से पूरे अहमदाबाद में हंगामा कर रहे थे। इस मामले में अहमदाबाद के जॉइंट पुलिस कमिश्नर जेके भट्ट ने कहा था कि तोगड़िया को न गुजरात पुलिस ने गिरफ्तार किया है और न राजस्थान पुलिस ने।

बता दें कि प्रवीण तोगड़िया राजस्थान के गंगापुर में सरकारी अधिसूचना के उल्लंघन के दस साल पुराने मामले में गिरफ्तारी वारंट का सामना कर रहे हैं। उन्होंने गंगापुर में प्रशासन के आदेश की अवहेलना करते हुए सार्वजनिक कार्यक्रम में भड़काऊ भाषण दिया था। इस मामले में गंगापुर पुलिसथाने में उनके खिलाफ FIR दर्ज है। इस सिलसिले में गंगापुर पुलिस गिरफ्तारी वारंट लेकर सोमवार सुबह अहमदाबाद पहुंची थी।