पैरा कमांडो की तैनाती : पुंछ और राजौरी जिले में आतंकवाद विरोधी अभियान का पांचवा दिन, पैरा कमांडोज की हुई तैनाती

October 16th, 2021

हाईलाइट

  • भीमबेर गली इलाके में पुंछ-राजौरी राजमार्ग पर लगातार तीसरे दिन यातायात बंद रहा

डिजिटल डेस्क, जम्मू। जम्मू-कश्मीर के पुंछ और राजौरी जिलों में शनिवार को आतंकवाद रोधी अभियान पांचवें दिन में प्रवेश कर गया है। सेना ने आतंकवादियों को खत्म करने के लिए पैरा कमांडो तैनात किए हैं, जिनकी सही संख्या अभी भी ज्ञात नहीं है। पुलिस सूत्रों ने बताया कि भीमबेर गली इलाके में पुंछ-राजौरी राजमार्ग पर लगातार तीसरे दिन यातायात बंद रहा। तलाश लेने वाले सैनिकों और आतंकवादियों के बीच मंगलवार को पहली बार हुई गोलीबारी में एक जूनियर कमीशंड अधिकारी (जेसीओ) समेत पांच जवान शहीद हो गए थे।

शुक्रवार को दो जवानों की मौत हो गई थी, जबकि रिपोर्ट्स के मुताबिक एक जेसीओ लापता है। लेकिन जेसीओ के लापता होने की कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है। घने जंगलों वाले नर खास इलाके में पैरा कमांडो को तैनात किया गया है, जहां शुक्रवार को दो जवान शहीद हो गए थे। रक्षा सूत्रों ने कहा कि धेरा की गली (डीकेजी) क्षेत्र में तीन आतंकवादी और एक स्थानीय गाइड देखे जाने की जानकारी मिलने के बाद ऑपरेशन शुरू हुआ था।

रक्षा सूत्रों के अनुसार, मेंढर क्षेत्र में गोलीबारी शुरू होने के बाद, डीजीके क्षेत्र में आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ चल रही है, संभावना है कि आतंकवादियों के दो समूह एक पुंछ जिले में और दूसरा राजौरी जिले में सक्रिय है। रक्षा सूत्रों ने कहा कि आतंकवादियों के मारे जाने के बाद ही सही संख्या का पता चलेगा। उन्होंने कहा कि आतंकवादियों को भोजन और आश्रय प्रदान करने के संबंध में पुलिस ने दो स्थानीय लोगों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है।

(आईएएनएस)