दैनिक भास्कर हिंदी: वाराणसी से पीएम मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ेंगी प्रियंका गांधी! 

April 14th, 2019

हाईलाइट

  • वाराणसी से पीएम मोदी के खिलाफ प्रियंका को उतार सकती है कांग्रेस।
  • अभी तक नहीं हुई है वाराणसी के उम्मीदवार की घोषणा।

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। 2019 लोकसभा चुनाव में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाराणसी से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ चुनावी मैदान में उतर सकती हैं। सूत्रों के मुताबिक प्रियंका पीएम मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ने के लिए तैयार हैं, लेकिन इस पर अंतिम फैसला कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और सोनिया गांधी को लेना है। 

महासचिव बनने के बाद से राजनीति में सक्रिय हैं प्रियंका
दरअसल पार्टी महासचिव बनने के बाद से ही प्रियंका काफी सक्रिय नजर आ रही हैं। वो लगातार पार्टी के लिए यूपी के अलग-अलग इलाकों में पार्टी उम्मीदवारों के लिए प्रचार कर रही हैं। पिछले दिनों उन्होंने एक समर्थक के सवाल पर वाराणसी से मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ने की बात भी कही थी। वहीं शनिवार को यूपी की सीटों के लिए जारी सूची में एक बार फिर वाराणसी के उम्मीदवार की घोषणा नहीं हो पाई है। 

मोदी के खिलाफ सबसे मजबूत कैंडिडेट प्रियंका
कांग्रेस नेतृत्व प्रियंका की उम्मीदवारी की अटकलों पर चुप्पी साधे हुए हैं। वहीं कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने प्रियंका के चुनाव लड़ने की संभावना को खारिज भी नहीं किया है। उन्होंने कहा, अगर इस संबंध में कोई फैसला लिया जाता है और तो इसके बारे में तय किए जाने के बाद जानकारी दी जाएगी। प्रियंका गांधी इसी साल औपचारिक रूप से पार्टी की राजनीति में शामिल हुई हैं और उन्हें पूर्वी यूपी का प्रभारी महासचिव भी नियुक्त किया गया है। पार्टी सूत्रों के मुताबिक, वह 2014 में ही पीएम मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ना चाहती थीं। वह पीएम मोदी के खिलाफ सबसे मजबूत कैंडिडेट के रूप में देखी जा रही हैं। 

वाराणसी में पूजा-पाठ, रोड शो 
प्रियंका के रोड शो और बोट यात्रा से भी संकेत मिले हैं कि वो मोदी से संसदीय क्षेत्र से चुनाव लड़ सकती हैं। प्रियंका ने बनारस में बाबा काशी विश्वनाथ के मंदिर दर्शन भी किए, शहीदों के परिजनों से भी मिलीं और रोड शो किया। वाराणसी से ही प्रियंका ने अपनी बोट यात्रा की शुरुआत की थी। सूत्रों की मानें तो, प्रियंका खुद सीधे पीएम मोदी के खिलाफ बनारस से चुनाव लड़ने पर गंभीरता से विचार कर रही हैं।

मजबूती के आकलन के लिए हुआ आंतरिक सर्वे
पार्टी सूत्रों का कहना है, कांग्रेस की मजबूती का आकलन करने के लिए इलाहाबाद और वाराणसी में आंतरिक सर्वे किया गया। पार्टी ने इन दोनों ही सीटों से किसी उम्मीदवार की घोषणा नहीं की है। वाराणसी से 2004 में विजयी रहे राजेश मिश्रा को पड़ोसी सलेमपुर से टिकट दिया गया। 2014 में अजय राय को टिकट दिया गया था। 

2014 में तीसरे नंबर पर थे कांग्रेस प्रत्याशी
पिछले चुनाव यानि 2014 में मोदी के सामने आप, सपा, बसपा, कांग्रेस चुनाव लड़ी थी। नरेंद्र मोदी अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी आम आदमी पार्टी के अरविंद केजरीवाल से 3,71,784 वोटों के अंतर से जीते थे। नरेंद्र मोदी को कुल 5,81,022 वोट मिले थे। वहीं दूसरे स्थान पर रहे केजरीवाल को 2,09,238 वोट मिले थे। कांग्रेस प्रत्याशी अजय राय 75,614 वोटों के साथ तीसरे स्थान पर थे। वाराणसी लोकसभा में बहुजन समाज पार्टी के प्रत्याशी विजय प्रकाश जायसवाल चौथे स्थान पर रहे। उन्हें 60,579 वोट मिले थे। उत्तर प्रदेश की सत्तारूढ़ समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी कैलाश चौरसिया 45,291 मतों के साथ पांचवें स्थान पर थे।

खबरें और भी हैं...