दैनिक भास्कर हिंदी: तीन राज्यों में कर्जमाफी के बाद राहुल गांधी ने कहा- Its done!

December 20th, 2018

हाईलाइट

  • कर्जमाफी पर राहुल गांधी ने किया ट्विट its done !
  • राहुल गांधी ने ट्वीट किया है कि ''काम पूरा हुआ, राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में किसानों के कर्ज माफ किए।
  • राहुल गांधी के इस वादे को पूरा करने के बाद बीजेपी सरकार पूरी तरह से दबाव में नजर आ रही है।

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। पहले मध्य प्रदेश फिर छत्तीसगढ़ और अब राजस्थान तीनों राज्यों की जनता से किया वादा राहुल गांधी ने पूरा कर दिया है। चुनाव प्रचार के दौरान राहुल गांधी ने तीन राज्यों में 10 दिन के भीतर किसानों का कर्जमाफ करने का वादा किया था। जोकि पूरा हो चुका है ! राहुल गांधी ने ट्वीट किया है कि ''काम पूरा हुआ, राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ ने किसानों के कर्ज माफ किए। 10 दिन मांगे थे, हमने दो दिन में कर दिया.'' राहुल गांधी के इस वादे को पूरा करने के बाद बीजेपी सरकार पूरी तरह से दबाव में नजर आ रही है। 

तीन राज्यों में किसानों का कर्ज माफ
किसानों कर्ज सबसे पहले मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार ने किया। यहां किसानों का बकाया 2 लाख रुपये तक का फसल कर्ज माफ कर दिया गया है। कमलनाथ के बाद छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री भूपेष बघेल ने राज्य के करीब 16 लाख किसानों का सारा कर्ज माफ करने का एलान किया है। बघेल सरकार ने कहा, छत्तीसगढ़ ग्रामीण बैंक और कॉपरेटिव बैंक से कर्ज लेने वाले किसानों का कर्ज माफ किया जाएगा। कमर्शियल बैंकों से लोन लेने वाले किसानों की जांच के बाद कर्जमाफी होगी। दोनों राज्यों में कर्जमाफी के बाद राजस्थान मेंअशोक गहलोत सरकार ने फैसला किया है कि किसानों का कॉपरेटिव बैंक का पूरा कर्जा माफ होगा। कमर्शियल और ग्रामीण बैंकों से लिया गया किसानों का 2 लाख तक का अल्पकालीन कृषि कर्ज माफ होगा।

बता दें कि कर्जमाफ के अलावा कई वादे कांग्रेस की सरकार ने पूरे किए हैं। छत्तीसगढ़ सरकार ने धान की फसल पर एमएसपी 2500 रुपए प्रति क्विंटल करने की घोषणा की है जो पहले 1750 रुपए क्विंटल था। वहीं झीरम घाटी हमले की जांच के लिए भी एसआईटी का गठन किया है, 2013 में हुए इस हमले में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता नंद कुमार पटेल समेत 29 लोग मारे गए थे। मध्य प्रदेश में कन्या विवाह योजना की सहायता राशि बढ़ाई गई है। कन्या विवाह योजना के लिए 51 हजार रुपये मिलेंगे जबकि पहले हितग्राही को 25 हजार रुपये की मदद मिलती थी। इसके अलावा प्रदेश में 4 गारमेंट्स पार्क को मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मंज़ूरी दे दी है।