comScore

रेप के आरोप पर बोले दाती महाराज, हर जांच में सहयोग करूंगा

June 14th, 2018 17:16 IST

हाईलाइट

  • बलात्कार के आरोपों का सामना कर रहे दाती महाराज मीडिया के सामने आए
  • आरोप लगाने वाली युवती को बताया अपनी बेटी जैसी। बोले, उस पर कोई आरोप नहीं लगाऊंगा
  • मीडिया से कहा, मुझसे गलती हुई है तो पुलिस जांच करें। मैं हर जांच में सहयोग के लिए तैयार

डिजिटल डेस्क, दिल्ली। रेप का आरोप लगने के बाद से ही फरार चल रहे स्वयंभू बाबा दाती महाराज ने पहली बार मीडिया के सामने आकर अपनी सफाई दी है। दाती महाराज ने कहा है कि उन पर रेप का आरोप लगाने वाली युवती उनकी बेटी जैसी है और वो उस बिटिया पर कोई आरोप नहीं लगाएंगे। उन्होंने आगे कहा कि अगर उनसे गलती हुई है तो पुलिस मामले की जांच करेगी और वो जांच में हर तरह का सहयोग देने को तैयार हैं।



दाती महाराज ने कहा, ‘जो भी आरोप लगे हैं वो आपके सामने हैं। मैं उस बिटिया पर न तो आरोप लगा सकता हूं और न आरोप लगाऊंगा, क्योंकि आज भी वो मेरी बेटी है, पहले भी मेरी बेटी थी और आगे भी मेरी बेटी रहेगी। चाहे मुझे फांसी पर भी चढ़ना पड़े, तब भी मैं उस पर कोई आरोप नहीं लगाऊंगा।

दाती महाराज पर लगे आरोपों का उनके आश्रम की ओर से खंडन किया गया था। मीडिया से रेप के मामले पर सफाई देते हुए दाती ने आगे कहा कि, ‘जो लोग उनके भक्त हैं वो तो उनके समर्थन में बोलेंगे ही। मुझे जो कहना था वो मैंने आप लोगों के सामने कह दिया। पूरे राष्ट्र को मेरा नमो: नारायण। मैं सेवा कर रहा हूं और हर गुनाह के लिए क्षमाप्रार्थी हूं। अगर मैंने ऐसी कोई गलती की है तो वो प्रशासन के सामने है और पुलिस उसकी जांच करेगी। मैं जांच में पूरा सहयोग देने को तैयार हूं। जांच में जो भी सामने आएगा उसके बाद ही आगे के कदम उठाए जाएंगे।'

राजस्थान की 25 वर्षीय युवती ने दाती महाराज और उनके शिष्यों पर रेप का इल्जाम लगाया था। युवती ने दक्षिणी दिल्ली के फतेहपुर बेरी थाने में इन सभी लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कराया था। पुलिस को दिए बयान में युवती ने कहा था कि वो करीब एक दशक से दाती महाराज की अनुयायी थी, लेकिन महाराज और उनके शिष्यों द्वारा बार-बार उसका रेप किए जाने के बाद वो आश्रम से भागकर अपने घर राजस्थान लौट गई थी। अपने माता-पिता को इस घटना के बारे में बताने पर उन लोगों ने पुलिस में दाती महाराज और उनके चेलों पर केस दर्ज कराया।

अब इस मामले की जांच जिला पुलिस से लेकर क्राइम ब्रांच को दे दी गई है। पुलिस के संयुक्त आयुक्त (क्राइम) आलोक कुमार के मुताबिक इस केस को अब क्राइम ब्रांच को सौंप दिया गया है। हालांकि अभी उन्हें ऑफिशियल ऑर्डर्स नहीं मिले हैं। 
 

कमेंट करें
1jbWu