comScore

RPF कांस्टेबल की मुस्तैदी से कायल हुए पीयूष गोयल, कहा-रेलवे परिवार के काम पर गर्व है

July 26th, 2018 18:53 IST
RPF कांस्टेबल की मुस्तैदी से कायल हुए पीयूष गोयल, कहा-रेलवे परिवार के काम पर गर्व है

हाईलाइट

  • मंगलवार को मुंबई के कंजूमार्ग रेलवे स्टेशन पर एक बड़ा हादसा टल गया।
  • प्लेटफॉर्म नंबर 2 पर आरपीएफ के जवान राजकमल की मुस्तैदी से एक महिला यात्री की जान बच गई।
  • मंत्री पियुष गोयल ने कहा, मुझे हमारे रेलवे परिवार पर बहुत गर्व है जो हमारे यात्रियों की सुरक्षा और सुविधा सुनिश्चित करने के लिए नॉन स्टॉप पर काम कर रहा है।

डिजिटल डेस्क, मुंबई।  मुंबई के कंजूमार्ग रेलवे स्टेशन पर एक बड़ा हादसा टल गया। दरअसल बुधवार को कंजूमार्ग रेलवे स्टेशन पर रेलवे के एक सुरक्षाकर्मी की मुस्तैदी और फुर्ती की वजह से एक रेल यात्री की जान बच गई। यह घटना मंगलवार दोपहर 3 बजे है। जिस आरपीएफ के जवान ने महिला की जान बचाई उसका नाम राजकमल है। इस पूरी घटना का सीसीटीवी फुटेज सामने आया है। इस वीडियो को देखकर वित्त, रेलवे और कोयला के मंत्री पीयूष गोयल ने जवान की मुस्तैदी की तारीफ की। उन्होंने इस घटना का वीडियो अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर करते हुए  ट्वीट में लिखा, आरपीएफ कांस्टेबल राज कमल यादव के वीर प्रयास ने मुंबई के पास कनजमर्ग स्टेशन में ट्रेन के नीचे आने से उसे एक महिला के जीवन को बचाया। मुझे हमारे रेलवे परिवार पर बहुत गर्व है जो हमारे यात्रियों की सुरक्षा और सुविधा सुनिश्चित करने के लिए नॉन स्टॉप पर काम कर रहा है।

सीसीटीवी फूटेज में कैद हुई घटना 

यह घटना प्लेटफॉर्म नंबर 2 की है। यहां एक लोकल ट्रेन से उतरते वक्त एक महिला हादसे का शिकार होती है। यह महिला ट्रेन से उतरने की कोशिश करती है लेकिन इसी दौरान ट्रेन की रफ्तार बढ़ने लगी और ट्रेन से उतरने की मशक्त में महिला की साड़ी ट्रेन के गेट में फंस जाती है जिसके कारण वो प्लेटफॉर्म पर गिर पड़ती है। इसी बीच प्लेटफॉर्म पर खड़े एक आरपीएफ के जवान की नजर उस महिला पर पड़ी और उसने बड़ी ही फुर्ती के साथ इस यात्री को गिरने से बचा लिया।

Image result for rpf constable mumbai

इस पूरी घटना का सीसीटीवी फुटेज सामने आया है, जिसमे दिखाई दे रहा है कि आरपीएफ का जवान दौड़ते हुए महिला को ट्रैक पर गिरने से बचाता है, किसी तरह से वह महिला का हाथ पकड़ने में सफल होता है, जब वह ट्रेन के साथ घसीटती हुई चली जा रही थी। इस दौरान जवान खुद भी प्लेटफॉर्म पर गिर जाता है। इसी दौरान प्लेटफॉर्म पर खड़े अन्य यात्री महिला को अपने और खींच लेते है। इस तरह जवान के जबरदस्त प्रयास की वजह से महिला की जान बच जाती है।

आरपीएफ के अधिकारियों ने महिला की पहचान कर ली है। महिला का नाम पूनम है, आरपीएफ के अधिकारियों के मुताबिक महिला चिल्लाने की आवाज सुनकर आरपीएफ का कॉस्टेबल महिला को बचाने के लिए पहुंचा और वहां मौजूद लोगों ने भी उसकी मदद की। 

Image result for rpf constable mumbai

कमेंट करें
3ysQh
NEXT STORY

Tokyo Olympics 2020:  इस बार दिखेगा भारत के 120 खिलाड़ियों का दम, 18 खेलों में करेंगे शिरकत

Tokyo Olympics 2020:  इस बार दिखेगा भारत के 120 खिलाड़ियों का दम, 18 खेलों में करेंगे शिरकत

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। टोक्यो ओलंपिक का काउंटडाउन शुरु हो चुका हैं। 23 जुलाई से शुरु होने जा रहे एथलेटिक्स त्यौहार में भारतीय दल इस बार 120 खिलाड़ियों के साथ 18 खेलों में दावेदारी पेश करेगा। बता दें 81 खिलाड़ियों के लिए यह पहला ओलंपिक होगा। 120 सदस्यों के इस दल में मात्र दो ही खिलाड़ी ओलंपिक पदक विजेता हैं। पी.वी सिंधू ने 2016 रियो ओलंपिक में सिल्वर तो वहीं मैराकॉम ने 2012 लंदन ओलंपिक में ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया था।

भारत पहली बार फेंनसिग में चुनौता पेश करेगा। चेन्नई की भवानी देवी पदक की दावेदारी पेश करेंगी। भारत 20 साल के बाद घुड़सवारी में वापसी कर रहा है, बेंगलुरु के फवाद मिर्जा तीसरे ऐसे घुड़सवार हैं जो ओलंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे। 

olympic

युवा कंधो पर दारोमदार

टोक्यो ओलंपिक में भाग लेने जा रहे भारतीय दल में अधिकतर खिलाड़ी युवा हैं। 120 खिलाड़ियों में से 103 खिलाड़ी 30 से भी कम आयु के हैं। मात्र 17 खिलाड़ी ही 30 से ज्यादा उम्र के होंगे। 

भारतीय दल में 18-25 के बीच 55, 26-30 के बीच 48, 31-35 के बीच 10 तो वहीं 35+ उम्र के 7 खिलाड़ी हिस्सा ले रहे हैं। इस लिस्ट में सबसे युवा 18 साल के दिव्यांश सिंह पंवार हैं, जो शूटिंग में चुनौता पेश करेंगे, तो वहीं सबसे उम्रदराज 45 साल के मेराज अहमद खान होंगे जो शूटिंग में ही पदक के लिए भी दावेदार हैं।