ऑपरेशन गंंगा अभियान: सिंधिया ने बुखारेस्ट एयरपोर्ट पर प्रतीक्षा कर रहे भारतीय छात्रों से बातचीत की

March 2nd, 2022

हाईलाइट

  • सिंधिया भारतीय छात्रों की निकासी के प्रयासों की निगरानी के लिए सरकार के विशेष दूत के रूप में बुखारेस्ट हैं

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। रूस-यूक्रेन संकट के बीच, नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने बुधवार को बुखारेस्ट हवाई अड्डे पर अपनी उड़ानों का इंतजार कर रहे भारतीय छात्रों से बातचीत की और उन्हें जल्द से जल्द स्वदेश रवाना होने का आश्वासन दिया। सिंधिया भारतीय छात्रों की निकासी के प्रयासों की निगरानी के लिए सरकार के विशेष दूत के रूप में बुखारेस्ट पहुंचे चार मंत्रियों में से एक हैं, जिन्होंने उक्त हवाई अड्डे पर प्रतीक्षा कर रहे महाराष्ट्र के मेडिकल छात्रों को सभी सहायता का आश्वासन दिया।

उन्होंने छात्रों से कहा कि वहां से चार उड़ानें रवाना होंगी जिसमें एक बार में 1,000 से अधिक छात्रों को निकाला जाएगा। सिंधिया ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म कू पर कहा, बुखारेस्ट हवाई अड्डे पर अपनी उड़ानों का इंतजार कर रहे भारतीय छात्रों से मुलाकात और बातचीत की। इस कठिन समय के बीच उनके धैर्य से अभिभूत हूं और उनकी चिंता को लेकर चिंतित हूं। हालांकि, उन्हें बुखारेस्ट से उनके शीघ्र प्रस्थान का आश्वासन दिया है। पीएम नरेंद्र मोदी जी और पूरे भारत का उन्हें समर्थन है!

भारत ने अपने नागरिकों को निकालने के लिए ऑपरेशन गंगा शुरू किया है। केंद्र सरकार भारतीय नागरिकों को निकालने के लिए अगले तीन दिनों में 26 उड़ानें संचालित करने की योजना बना रही है। एक अनुमान के मुताबिक, युद्धग्रस्त यूक्रेन में कुल 18,000 छात्र फंसे हुए हैं। हालांकि, विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला ने मंगलवार को कहा कि यूक्रेन से अब तक 12,000 भारतीयों को निकाला गया है, जो युद्ध से तबाह देश में देश की कुल आबादी का 60 प्रतिशत है।

(आईएएनएस)

खबरें और भी हैं...