दैनिक भास्कर हिंदी: धुंध की चादर का कहर आज भी जारी, 2 दिन तक राहत के कोई आसार नहीं

November 10th, 2017

डिजिटल डेस्क, नई दिल्‍ली। दिल्ली में फैली स्मॉग की चादर का कहर शुक्रवार के दिन भी जारी है। वातावरण में किसी तरह का कोई सुधार नहीं आया है। गौरतलब है कि दिल्ली का पॉल्यूशन लेवल एक खतरनाक स्तर पर पहुंच गया है। यहां का एयर क्वालिटी इंडेक्स भी (एक्यूआइ) 400 के पार है। मौसम विभाग का कहना है कि अगले 2 दिनों तक दिल्‍लीवालों को इसी जहरीली हवा में सांस लेना पडेगा क्योंकि इस से मुक्ति मिलने के आसार नहीं दिख रहे हैं।

दिल्ली के सबसे ज्यादा प्रदूषित इलाके पंजाबी बाग में प्रदूषण स्तर 802, मंदिर मार्ग पर 515, आनंद विहार में 571 और द्वारका में 420 है। इन इलाकों से दर्ज प्रदूषण का यह स्तर एक बहुत ही खतरनाक श्रेणी के अंतर्गत आता है। इसी के ही साथ राजपथ इलाके में रहने वाले लोगों का कहना है कि खुद को पॉल्यूशन से बचाने के लिए वो लोग फेस मास्क मुहं से उतार ही नहीं रहे हैं।

मेट्रो की आवाजाही को बढ़ाया गया
स्मॉग के चलते दिल्ली मेट्रो ने मेट्रो की आवाजाही को बढा दिया है। ताकि लोग ज्यादा से ज्यादा पब्लिक ट्रांसपोर्ट का प्रयोग करें और सुरक्षित रहें।

दिल्‍ली में ट्रकों की एंट्री बंद
पॉल्यूशन के लेवल को दिल्‍ली में कम करने के लिए ट्रकों की एंट्री पर रोक लगाने का फैसला किया गया है। दिल्ली पुलिस ने उपराज्यपाल के निर्देश पर दिल्ली की सीमाओं में आवश्यक वस्तुओं को लेकर आ रहे ट्रकों के अलावा दूसरे ट्रकों के आने पर रोक लगा दी है। उपराज्यपाल अनिल बैजल ने दिल्ली यातायात पुलिस और नगर निगमों को गुरुवार को रात में 11 बजे से 12 नवंबर की रात 11 बजे तक भारी और मध्यम मालवाहक वाहनों के प्रवेश पर रोक लगाने का निर्देश दिया है।

दिल्‍ली के आसपास बढ़ा प्रदूषण का स्‍तर
सीपीसीबी ने दिल्ली में एक दिन में 500 के पैमाने पर 400 के पार एयर क्वालिटी इंडेक्स दर्ज किया है। वहीं NCR के फरीदाबाद, गाजियाबाद, नोएडा और गुड़गांव की भी एक्यूआई भी खराब स्थिति में दर्ज की गई हैं। मंगलवार से प्रदूषण के स्तर में बढ़ोतरी के बाद गुरुवार को दोपहर 12 बजे से पीएम 2.5 और पीएम 10 के अल्ट्राफाइन कणों के स्तर में गिरावट दर्ज की गई।