comScore

आखिर इमरान की बात मान गए मोदी, दोनों देशों के विदेश मंत्रियों की होगी बैठक

September 21st, 2018 09:58 IST
आखिर इमरान की बात मान गए मोदी, दोनों देशों के विदेश मंत्रियों की होगी बैठक

हाईलाइट

  • भारत पाकिस्तान के साथ द्विपक्षीय वार्ता के लिए तैयार हो गया है।
  • भारतीय विदेश मंत्रालय ने इस बात की पुष्टि की है।
  • न्यूयॉर्क में सुषमा स्वराज और पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी की मुलाकात होगी।

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के अनुरोध पर भारत दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय वार्ता के लिए राजी हो गया है। भारतीय विदेश मंत्रालय ने इस बात की पुष्टि की है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि न्यूयॉर्क में सुषमा स्वराज और पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी के बीच मुलाकात होगी। बता दें कि इमरान ने भारतीय पीएम मोदी को एक पत्र लिखकर बातचीत को फिर से शुरू करने का आग्रह किया था।

मीडिया से रूबरू होते हुए रवीश कुमार ने कहा, 'भारत ने पाकिस्तान के आग्रह पर विदेश मंत्रियों के बीच बैठक को मंजूरी दे दी है। हालांकि बैठक की तारीख और समय पर अभी फैसला नहीं लिया गया है। हम आपस में बात कर जल्द ही इसपर भी फैसला ले लेंगे। हमने यह तय किया है कि यह कोई डायलॉग नहीं बल्कि सिर्फ एक बैठक होगी। यह बैठक न्यूयॉर्क में होने वाले यूनाइटेड नेशन जेनरल असेंबली (UNGA) से पहले या बाद में आयोजित की जाएगी।'

रवीश ने कहा, 'हालांकि इस बैठक का एजेंडा अभी तक तय नहीं किया जा सका है। हम इसे जल्द ही अंतिम रूप देंगे।' उन्होंने कहा कि आतंकवाद और बातचीत एक साथ नहीं हो सकता। भारत और पाकिस्तान का संबंध अब इस बैठक के बाद ही कोई नतीजे पर पहुंचेगा। उन्होंने कहा, 'हमने आंतकवाद पर अपनी नीतियों में कोई बदलाव नहीं किया है। हम हमेशा इसके खिलाफ रहें हैं।'

इससे पहले पाकिस्तान के पीएम इमरान खान ने पीएम मोदी को पत्र लिखा था। पत्र में उन्होंने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी के बीच मीटिंग कराने का जिक्र किया था। उन्होंने लिखा, 'मैं भारतीय पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा मुझे भेजे गए शुभकामना संदेश के लिए आभार व्यक्त करता हूं। मैं उन्हें यह बताना चाहता हूं कि पाकिस्तान आतंकवाद पर बात करने के लिए तैयार है। हम शांति और सुरक्षा, सीबीएम, जम्मू-कश्मीर, सियाचिन, सर क्रीक, वुलर बैराज/तुलबुल नेविगेशन प्रॉजेक्ट जैसे मुद्दों पर चर्चा करने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं।'

बता दें कि सुषमा स्वराज 24 सितंबर को न्यूयॉर्क रवाना हो रही हैं। वह और कुरैशी दोनों UNGA में अपने-अपने देशों का प्रतिनिधित्व करेंगे। इसके बाद 27 सितंबर को दोनों देशों के विदेश मंत्री सार्क विदेश मंत्रियों के साथ लंच के दौरान मिलेंगे।

कमेंट करें
4HJAG