comScore

जम्मू कश्मीर: अनंतनाग में आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर फायरिंग की, टेरिटोरियल आर्मी का एक जवान शहीद

जम्मू कश्मीर: अनंतनाग में आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर फायरिंग की, टेरिटोरियल आर्मी का एक जवान शहीद

हाईलाइट

  • शोपियां और त्राल मुठभेड़ में सात आतंकी ढेर
  • समर्पण के लिए तीन बार स्थानीय लोगों को भेजा
  • अमरनाथ यात्रा को निशाना बनाना चाहते थे आतंकी

डिजिटल डेस्क, श्रीनगर। कश्मीर के अनंतनाग में आतंकियों द्वारा सुरक्षाबलों पर फायरिंग की घटना सामने आई है। हमले में टेरिटोरियल आर्मी का एक जवान शहीद हो गया है। गोलियों की आवाज सुन इलाके में अफरा-तफरी का माहौल हो गया। हमलावरों की तलाश में इलाके की घेराबंदी कर अभियान चलाया जा रहा है।

शहीद जवान की पहचान मोहम्मद सलीम (35) पुत्र गुलाम हसन निवासी बिजबिहाड़ा के रूप में हुई है। घटना के बाद सलीम को नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया। जहां जवान की हालत गंभीर देखते हुए अनंतनाग के एक अस्पताल में रेफर किया गया। उपचार के दौरान जवान ने दम तोड़ दिया। 

शोपियां और त्राल मुठभेड़ में सात आतंकी ढेर
उधर, शोपियां और त्राल में आतंकियों के साथ मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने 7 दहशतगर्दों के ढेर कर दिया है। आईजीपी कश्मीर विजय कुमार ने बताया कि शोपियां मुठभेड़ में 5 स्थानीय आतंकवादी मारे गए हैं और त्राल में 2 आतंकी मारे गए हैं। मुठभेड़ में कोई विस्फोटक इस्तेमाल नहीं किया गया है। मस्जिद को किसी प्रकार की क्षति नहीं पहुंची है। वहीं अमरनाथ यात्रा में सुरक्षा के मुद्दे पर लेकर उन्होंने कहा कि यात्रा का सफलतापूर्वक संचालन करने के लिए पूर्ण सुरक्षा सुनिश्चित करेंगे।

समर्पण के लिए तीन बार स्थानीय लोगों को भेजा
जीओसी विक्टर फोर्स, आर बाली ने कहा कि मुठभेड़ के दौरान शोपियां में हमने सुनिश्चित किया कि मस्जिद को नुकसान न पहुंचे। आतंकवादियों को आत्मसमर्पण कराने के लिए तीन बार स्थानीय लोगों को उनके पास भेजा गया। जब वे सहमत नहीं हुए तो हमने ऑपरेशन शुरू किया और आतंकियों मारे गए। 

अमरनाथ यात्रा को निशाना बनाना चाहते थे आतंकी
बाली ने बताया कि मुठभेड़ में चार जवान घायल हुए हैं। मारे गए आतंकियों में से पांच की पहचान हुई है। जिनमें मुजामिल तांत्रे, आदिल लोन, यूनिस खांडे, बासित इस्माइल को शोपियां और इम्तियाज शाह त्राल में ढेर किया गया है। इम्तियाज को अमरनाथ यात्रा को निशाना बनाने का काम दिया गया था।

कमेंट करें
OqDgi