comScore

बैंक धोखाधड़ी मामले में फ्रॉस्ट पर कार्रवाई क्यों नहीं : कांग्रेस

January 22nd, 2020 20:00 IST
 बैंक धोखाधड़ी मामले में फ्रॉस्ट पर कार्रवाई क्यों नहीं : कांग्रेस

हाईलाइट

  • बैंक धोखाधड़ी मामले में फ्रॉस्ट पर कार्रवाई क्यों नहीं : कांग्रेस

नई दिल्ली, 22 जनवरी (आईएएनएस)। कांग्रेस ने फ्रॉस्ट इंटरनेशनल के निदेशकों के खिलाफ समय पर कार्रवाई न किए जाने को लेकर सरकार की निंदा की। फ्रॉस्ट इंटरनेशनल पर बैंकों से 3,592 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी का आरोप है।

कांग्रेस प्रवक्ता जयवीर शेरगिल ने आरोप लगाया कि यह सरकार थी जिसने घोटाले की शिकायत दर्ज होने से रोका था।

शेरगिल ने सवाल किया, जब ऋण देने वाले बैंकों के संघ ने 15 जून, 2019 को शिकायत दर्ज की आधिकारिक अनुमति दी थी तो शिकायत दर्ज करने में सात महीने से अधिक का समय क्यों लगा? क्या भाजपा सरकार में कोई व्यक्ति शिकायत के दर्ज करने को रोक रहा था?

उन्होंने कहा, जब पीएसबी के बोर्ड में सरकार के मनोनीत व्यक्ति जानते थे कि कंपनी पैसा नहीं लौटा पा रही है। एमएचए को लुकआउट नोटिस जारी करने के आग्रह में एक साल का समय क्यों लगा?

कांग्रेस ने लुकआउट नोटिस जारी करने में देरी पर सवाल उठाया।

शेरगिल ने कहा, 18 जनवरी 2019 को एलओसी के जारी होने के बावजूद, भाजपा सरकार में किसके निर्देश पर जांच एजेंसियों ने 19 जनवरी 2020 तक पूरे एक साल तक संदिग्ध अपराधियों के खिलाफ मामला दर्ज क्यों नहीं किया, जिनका आज की तारीख तक पता नहीं है।

कांग्रेस ने आरोप लगाया कि भाजपा के कार्यकाल में कुल बैंक धोखाधड़ी 2.7 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा हो गई है।

कमेंट करें
dicq7
NEXT STORY

Tokyo Olympics 2020:  इस बार दिखेगा भारत के 120 खिलाड़ियों का दम, 18 खेलों में करेंगे शिरकत

Tokyo Olympics 2020:  इस बार दिखेगा भारत के 120 खिलाड़ियों का दम, 18 खेलों में करेंगे शिरकत

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। टोक्यो ओलंपिक का काउंटडाउन शुरु हो चुका हैं। 23 जुलाई से शुरु होने जा रहे एथलेटिक्स त्यौहार में भारतीय दल इस बार 120 खिलाड़ियों के साथ 18 खेलों में दावेदारी पेश करेगा। बता दें 81 खिलाड़ियों के लिए यह पहला ओलंपिक होगा। 120 सदस्यों के इस दल में मात्र दो ही खिलाड़ी ओलंपिक पदक विजेता हैं। पी.वी सिंधू ने 2016 रियो ओलंपिक में सिल्वर तो वहीं मैराकॉम ने 2012 लंदन ओलंपिक में ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया था।

भारत पहली बार फेंनसिग में चुनौता पेश करेगा। चेन्नई की भवानी देवी पदक की दावेदारी पेश करेंगी। भारत 20 साल के बाद घुड़सवारी में वापसी कर रहा है, बेंगलुरु के फवाद मिर्जा तीसरे ऐसे घुड़सवार हैं जो ओलंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे। 

olympic

युवा कंधो पर दारोमदार

टोक्यो ओलंपिक में भाग लेने जा रहे भारतीय दल में अधिकतर खिलाड़ी युवा हैं। 120 खिलाड़ियों में से 103 खिलाड़ी 30 से भी कम आयु के हैं। मात्र 17 खिलाड़ी ही 30 से ज्यादा उम्र के होंगे। 

भारतीय दल में 18-25 के बीच 55, 26-30 के बीच 48, 31-35 के बीच 10 तो वहीं 35+ उम्र के 7 खिलाड़ी हिस्सा ले रहे हैं। इस लिस्ट में सबसे युवा 18 साल के दिव्यांश सिंह पंवार हैं, जो शूटिंग में चुनौता पेश करेंगे, तो वहीं सबसे उम्रदराज 45 साल के मेराज अहमद खान होंगे जो शूटिंग में ही पदक के लिए भी दावेदार हैं।