comScore

वर्ल्ड रेसलिंग चैंपियनशिप में बजरंग पूनिया, रवि कुमार ने जीता कांस्य पदक

September 20th, 2019 21:38 IST
वर्ल्ड रेसलिंग चैंपियनशिप में बजरंग पूनिया, रवि कुमार ने जीता कांस्य पदक

हाईलाइट

  • भारत के बजरंग पूनिया ने वर्ल्ड रेसलिंग चैंपियनशिप में कांस्य पदल हासिल किया
  • रवि दहिया ने भी 57 किग्रा फ्रीस्टाइल वर्ग में अपने वर्ल्डवाइड डेब्यू में कांस्य पदक जीता
  • दोनों ही खिलाड़ी फाइनल में जगह बनाने में कामयाब नहीं हो पाए

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। भारत के बजरंग पूनिया ने शुक्रवार को नूर-सुल्तान में रेसलिंग वर्ल्ड चैंपियनशिप में कांस्य पदल हासिल किया। 65 किलोग्राम फ्रीस्टाइल वर्ग के कांस्य पदक मुकाबले में बजरंग ने मंगोलिया के तुलगा ओचिर को 8-7 से हराया। रवि दहिया ने भी 57 किग्रा फ्रीस्टाइल वर्ग में अपने वर्ल्डवाइड डेब्यू में कांस्य पदक जीता। उन्होंने एट्रिनगार्च को 6-3 से हराया। हालांकि दोनों ही खिलाड़ी फाइनल में जगह बनाने में कामयाब नहीं हो पाए।

बजरंग ने तुलगा तुमुर ओचिर को हराया
ब्रॉन्ज मेडल मैच की शुरुआत में बजरंग मंगोलिया के रेसलर तुलगा तुमुर ओचिर से पिछड़ गए थे। ओचिर ने बजरंग को बाहर ढकेलते हुए दो अंक लिए और फिर चेस्ट थ्रो के जरिए चार अंक हासिल कर बजंरग पर 6-0 की बढ़त बना ली। हालांकि ब्रेक टाइम से पहले ओचिर को मैट से बाहर धकेलते हुए बंजरंग ने दो अंक हासिल किए और स्कोर को 6-2 पर ला दिया।

दूसरे ब्रेक में बजरंग ने आक्रामक शुरुआत की और लगातार दो बार तीन-तीन अंक हासिल कर 8-6 की लीड हासिल की। यहां मंगोलिया के खिलाड़ी ने एक अंक लिया लेकिन बजरंग ने अपनी बढ़त को कायम रखा और 8-7 से कांस्य अपने नाम कर लिया।

सेमीफाइनल में नियाजबेकोव से हारे बजरंग
सेमीफाइनल मुकाबले में अंपायरों की धांधली की वजह से बजरंग पूनिया को निराशा हाथ लगी थी। सेमीफाइनल में बजरंग का सामना कजाकिस्तान के दौलत नियाजबेकोव से हुआ, जिसमें वह कजाकिस्तान के पहलवान को हरा नहीं सके थे। दोनों का स्कोर 9-9 रहा था। हालांकि कजाकिस्तान के पहलवान ने एक दांव में चार अंक हासिल कर बजरंग को मात दे दी थी। इस हार के बाद बजरंग ने अंपायरिंग पर अपना गुस्सा जताया था।

बजरंग के पास 3 वर्ल्ड चैंपियनशिप पदक
बजरंग पूनिया के पास अब 3 वर्ल्ड चैंपियनशिप पदक हैं। एशियाई खेलों के स्वर्ण पदक विजेता ने अपना पहला वर्ल्ड चैंपियनशिप पदक बुडापेस्ट में 2013 में जीता था। इस दौरान उन्हें कांस्य पदक मिला था। इसके बाद 2018 में बुडापेस्ट में ही उन्होंने सिल्वर मेडल जीता।

रवि कुमार ने रेजा अत्री नगराइच को हराया
उधर, रवि कुमार ने 57 किलो वर्ग में ईरान के रेजा अत्री नगराइच को 6-3 से मात देते हुए कांस्य पदक अपने नाम किया।  रवि ने शुरुआत से ही अपने विपक्षी पर दबाव बनाकर रखा था। रवि ने शुरुआत में रेजा को पलट दो अंक हासिल किए। हालांकि रेजा ने कुछ ही देर बाद एक अंक ले अपना खाता खोला। रवि को खतरा था कि रेजा बराबरी पर न आ जाए, लेकिन रवि ने फिर पुराना दांव खेलते हुए स्कोर को 4-1 कर लिया।

रेजा ने दो अंक लेते हुए रवि को फिर परेशान किया। रवि ने मैच खत्म होने से कुछ देर पहले टेक डाउन से दो अंक ले स्कोर 6-3 कर लिया और अपनी बढ़त को कायम रखते हुए कांस्य पदक अपने नाम किया। रवि को गुरुवार को उनके सेमीफाइनल मुकाबले में जौर यूग्वेव ने 4-6 से हराया था।

कमेंट करें
BopM5