comScore

इस पौधे में है सांप के जहर से भी ज्यादा खरनाक रसायन, छूने से हो सकता है ऐसा हाल

इस पौधे में है सांप के जहर से भी ज्यादा खरनाक रसायन, छूने से हो सकता है ऐसा हाल

डिजिटल डेस्क, ब्रिटेन। पेड़-पौधे हमारे जीवन का एक अहम हिस्सा होते है। इन्हीं से मनुष्य के जीवन का अस्तित्व होता है, लेकिन तब क्या हो जब यही पौधे इंसान की जान के दुश्मन बन जाए। जी हां, आज हम आपको एक ऐसे पौधे के बारे में बताने जा रहे है जो इंसान की जान तक ले सकते हैं। 

ब्रिटेन के लंकाशायर में नदी किनारे एक ऐसा पौधा मिला है, जिसे छूते ही हाथों में फफोले पड़ जाते हैं। आम बोलचाल की भाषा में इसे होगवीड या किलर ट्री कहा जाता है। इसका वैज्ञानिक नाम हेरकिलम मेंटागेजिएनम है। दरअसल, जाइंट होगवीड नाम का यह पौधा काफी विषैला माना गया है। 

ब्रिटेन में पहली बार यह पौधा 19वीं शताब्दी में मिला था। इसके बाद वह अब कुछ दिनों पहले नदी के किनारे मिला। शहर में रहने वाले एक 11 वर्षीय बच्चे ने इस पौधे को छू लिया, जिसके बाद उसके हाथों में फफोले पड़ गए। उसे फौरन अस्पताल ले जाया गया। वैज्ञानिकों का मानना है इसे छूने के 48 घंटों के भीतर ये अपना खतरनाक असर दिखाना शुरु कर देता है। यह पौधा दिखने में जितना आकर्षक होता है, उतना ही खतरनाक है। इस जहरीले पौधे का रंग सफेद और हरा होता है। वहीं, शहर में रहने वाले कुछ लोगों का कहना है कि यह पौधा उनके घर के आसपास भी देखा गया है। उन्होंने पड़ोसियों और बच्चों से इस पौधे से दूर रहने के लिए कहा है।

स्थानीय निवासी पीटर नील्सन ने कहा, 'लोगों को इस पौधे के बारे में सतर्क रहने की जरूरत है। यह बहुत खतरनाक है। इसे रोकने के लिए कुछ करना चाहिए।' पिछले साल दो स्कूली छात्रों को भी अस्पताल भेजा गया था, जब उनकी स्किन इस पौधे की संपर्क में आ गई। बता दें कि यह पौधा रोशनी में किसी स्किन के संपर्क में आने के बाद जहरीला रसायन छोड़ता है। इसका जहरीला रसायन सांप के जहर से भी ज्यादा खतरनाक बताया गया है। इस पौधे के जहीरीले होने का कारण है इसके अंदर पाए जाना वाला सेंसआइजिंग फूरानोकौमारिंस नामक रसायन, जो इसे खतरनाक बनाता है। यह पौधा वातावरण में ऑक्सीजन और कार्बनडायऑक्साइड को बैलेंस करने में अपनी अहम भूमिका निभाता है।


 

कमेंट करें
OMdCz