comScore

प्रियंका का PM पर निशाना, बोलीं- अहंकार तो दुर्योधन का भी नहीं टिका


हाईलाइट

  • प्रियंका गांधी ने मोदी की तुलना दुर्योधन से करते हुए कहा कि ऐसा अंहकार दुर्योधन में भी था और उसका अहंकार नष्ट हुआ
  • प्रियंका गांधी पीएम मोदी के राजीव गांधी पर दिए बयान की वजह से गुस्से में हैं
  • प्रिंयका गांधी कांग्रेस प्रत्याशी कुमारी सैलजा के चुनाव प्रचार के लिए अंबाला पहुंची थी

डिजिटल डेस्क, अंबाला लोकसभा चुनाव 2019 में कांग्रेस प्रत्याशी कुमारी शैलजा के चुनाव प्रचार के लिए हरियाणा के अंबाला पहुंचीं कांग्रेस महासचिव प्रिंयका गांधी ने पीएम मोदी पर जमकर निशाना साधा। प्रियंका गांधी ने दुर्योधन का जिक्र करते हुए कहा कि अहंकार दुर्योधन में भी था और उसका अहंकार नष्ट हुआ। दरअसल, प्रियंका गांधी पीएम मोदी के राजीव गांधी पर दिए बयान की वजह से गुस्से में हैं।

प्रियंका गांधी ने कहा, ये चुनाव कोई एक परिवार के लिए नहीं है, ये चुनाव पूरे देश को बचाने के लिए है। दुर्योधन का अंहकार भी कृष्ण के सामने खत्म हो गया था। इसी तरह से इनका अहंकार भी खत्म होगा। जनता को संबोधित करते हुए प्रियंका ने कहा, साल 2014 में जब केन्द्र और हरियाणा में भाजपा की सरकार बनी तो बहुत उम्मीदें थी और आशाएं थी। जिनकी वजह से अपने इन्हें विजय बनाया। नौजवानों से ये वादा किया गया था कि हर साल 2 करोड़ रोजगार पैदा किए जाएंगे, लेकिन पिछले पांच सालों में अपने क्या देखा 5 करोड़ रोजगार घट गए। सिर्फ नोटबंदी की वजह से पांच लाख रोजगार कम हुए। रोजगार बनने की बजाए इनके कार्यकाल में रोजगार खोए गए। नौजवानों को पांच सालों में भाजपा ने प्रताड़ित किया है। मैं पूरा उत्तर प्रदेश घूम आई, लेकिन मुझे एक भी नौजवान नहीं मिला। जिसे पांच सालों में कोई रोजगार मिला है। 

यह भी पढ़ें: पीएम ने ममता को बताया अहंकारी, कहा- फानी पर चर्चा की कोशिश की, लेकिन जवाब नहीं मिला

पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा, इस देश ने कभी अहंकार और घमंड को माफ नहीं किया है। इतिहास इसका गवाह है महाभारत इसका गवाह है। ऐसा अहंकार दुर्योधन में भी था। उन्हें जब सच्चाई दिखाने के लिए भगवान कृष्ण उन्हें समझाने के लिए गए तो कृष्ण को भी उन्होंनें बंधक बनाने की कोशिश की। इसी अहंकार पर राष्ट्रकवि रामधारी दिनकर कुछ पंक्तियां हैं सुनिए...

जब नाश मनुज पर छाता है,
पहले विवेक मर जाता है।
हरि ने भीषण हुंकार किया,
अपना स्वरूप-विस्तार किया,
डगमग-डगमग दिग्गज डोले,
भगवान् कुपित होकर बोले-
‘जंजीर बढ़ा कर साध मुझे,
हाँ, हाँ दुर्योधन ! बाँध मुझे।

हमारे देश की जनता में बहुत विवेक है। ये विवेक कोई नया विवेक नहीं, ये विवेक आज का विवेक नहीं है। ये सादियों पुराना विवेक है। इस को आप गुमराह नहीं कर सकते। इस देश की जनता हर नेता को जवाबदेह बनाती है और आपको भी जवाबदेह बनाएगी। कांग्रेस ये चुनाव मुद्दों पर लड़ रही है। ये चुनाव जनता की जरूरतों पर लड़ रही है। ये चुनाव इस सच्चाई पर लड़ रही है कि जनता की समस्याओं को हल करने के लिए भाजपा की सरकारों ने कुछ नहीं किया। 

अंबाला में प्रियंका गांधी की जनसभा में मौजूद जनता

कमेंट करें
HFfmA