comScore

शव ठिकाने लगाने पहले ही  पुलिस के हत्थे चढ़ा पत्नी की हत्या का आरोपी पति 

शव ठिकाने लगाने पहले ही  पुलिस के हत्थे चढ़ा पत्नी की हत्या का आरोपी पति 

डिजिटल डेस्क सतना। बोरे में बंद लाश को ठिकाने लगाने से पहले कोलगवां पुलिस ने बुधवार को पत्नी रेखा पाल की हत्या के आरोपी पति  राजेश पाल पिता परानू निवासी घुघचिहाई को गिरफ्तार कर अदालत में पेश किया। आरोपी को आईपीसी की धारा- 302 के तहत सेंट्रल जेल भेज दिया गया है। पूछताछ में आरोपी ने अपना अपराध स्वीकार किया है। उसने पुलिस को बताया कि चरित्र के संदेह पर उसने अपनी पत्नी की हत्या की थी और लाश को बोरे में बंद कर ठिकाने लगाने की कोशिश से पहले ही वो पुलिस के हत्थे चढ़ गया। 
चरित्र पर था शक 
पुलिस सूत्रों के मुताबिक हत्या के आरोपी राजेश पाल की पहली पत्नी का निधन 20 वर्ष पहले हो गया था। पहली पत्नी से राजेश को दो बेटियां और एक बेटा है। पहली पत्नी की मृत्यु के बाद रेखा पाल उसकी जिंदगी में आई। दोनों सब्जी बेचा करते थे। राजेश ने टिकुरिया टोला में जगदीश कुशवाहा का मकान किराए पर ले रखा था। पत्नी के चरित्र पर संदेह के चलते दोनों में प्राय: झगड़ा हुआ करता था। झगड़ा अक्सर मारपीट की हद तक पहुंच जाता था। 
ऐसे हुआ खुलासा 
कोलगवां पुलिस की पूछताछ में गृहस्वामी जगदीश कुशवाहा ने बताया कि 30 अक्टूबर को सुबह साढ़े 4 बजे के करीब राजेश पाल अपने कंधे में जूट का एक बोरा लादकर सीढिय़ों से नीचे उतरा और उसने जगदीश से गेट खोलने को कहा। गेट खोलने के लिए जगदीश का नाती सूरज पहुंचा। सूरज ने राजेश से यंू जाने के संबंध में सवाल किया तो राजेश आक्रामक हो गया।  सूरज को उसकी गतिविधि पर शक हुआ तो उसने आरोपी राजेश को एक कमरे में बंद कर पूछा कि बोरे में क्या है? राजेश ने कहा कि पत्नी ने आत्महत्या कर ली है, वो उसकी लाश को लेकर गांव जा रहा है। सूरज ने फौरन मामले की इत्तला डॉयल-100 को दी । खबर मिलने कोलगवां टीआई मोहित सक्सेना और सीएसपी विजय प्रताप सिंह फौरन फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए। पुलिस की मौजूदगी में बोरा खोला गया तो उसमें रेखा पाल की लाश थी। उसके शव में कई जगह घातक जख्म थे। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।  

कमेंट करें
sOA7R