comScore

J&K: इमरान से फोन पर बात के बाद ट्रंप का आग्रह, भारत-पाक करें वार्ता

J&K: इमरान से फोन पर बात के बाद ट्रंप का आग्रह, भारत-पाक करें वार्ता

हाईलाइट

  • आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद से ही पाक इस मुद्दे को अंतरराष्ट्रीय मंच पर उठा रहा है
  • शुक्रवार को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने अमेरिकी राष्ट्रपति से फोन पर बात की
  • ट्रंप ने भारत-पाकिस्तान से इस मामले पर दोनों देशों से वार्ता का आग्रह किया

डिजिटल डेस्क, वॉशिंगटन। जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद से ही पाकिस्तान इस मुद्दे को अंतरराष्ट्रीय मंच पर उठा रहा है। हालांकि अब तक उसे निराशा ही हाथ लगी है। इस बीच शुक्रवार को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ टेलीफोन पर बात की।

दोनों के बीच कश्मीर मुद्दे के साथ-साथ अफगानिस्तान को लेकर भी बात हुई। ये बातचीत करीब 20 मिनट तक चली। बातचीत के बाद बयान जारी करते हुे ट्रंप ने भारत-पाकिस्तान से वार्ता का आग्रह किया।

इस बातचीत की जानकारी देते हुए पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा, 'प्रधानमंत्री इमरान खान ने अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप को पाकिस्तान का रुख बताया।' उन्होंने कहा, 'पीएम कई देशों के संपर्क में हैं और कश्मीर मुद्दे पर वैश्विक समर्थन जुटाने की कोशिश कर रहे हैं।

इसी के तहत आज उन्होंने अमेरिकी राष्ट्रपति से बात की है।' कुरैशी ने कहा, 'प्रधानमंत्री कश्मीर की स्थिति पर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) के पांच स्थायी सदस्यों में से चार से बात चुके हैं। 

इसके अलावा दोनों के बीच अफगानिस्तान में स्थिति पर भी चर्चा हुई। इमरान खान ने कहा कि पाकिस्तान अफगानिस्तान में शांति लाने के लिए रचनात्मक भूमिका निभा रहा है और इसने पूर्व में प्रयास किए हैं और भविष्य में भी वह ऐसा ही करेगा।

इससे पहले 15 अगस्त यानी भारत के स्वतंत्रता दिवस को इमरान खान ने काला दिवस के रूप में मनाया था। इमरान ने टि्वटर से अपनी तस्वीर हटाकर एक काली तस्वीर लगा दी थी।

इमरान ने कहा था 'क्या दुनिया जम्मू-कश्मीर में चुपचाप स्रेब्रेनिका की तरह नरसंहार देखेगी, जहां मुसलमानों का सफाया किया जाएगा। मैं अंतरराष्ट्रीय समुदाय को चेतावनी देता हूं कि अगर ऐसा हुआ तो मुस्लिम देशों में इसके गंभीर परिणाम देखने को मिलेंगे।' 

बता दें कि जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद से पाकिस्तान बौखलाया हुआ है। कुछ दिन पहले पाकिस्तान ने भारत के साथ द्विपक्षीय व्यापार को सस्पेंड कर दिया था। इसके अलावा उसने भारत के साथ डिप्लोमैटिक रिलेशंस को भी डाउनग्रेड कर दिया था। दोनों देशों के बीच चलने वाली ट्रेन और बस सेवाओं को भी वह कैंसिल कर चुका है। 

कमेंट करें
98IJn