comScore

पिता ने घर में बनाई थी प्रैक्टिस के लिए पिच, अब बेटा RCB से खेलेगा IPL

December 23rd, 2018 15:39 IST
पिता ने घर में बनाई थी प्रैक्टिस के लिए पिच, अब बेटा RCB से खेलेगा IPL

हाईलाइट

  • शिवम को रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB) ने बेस प्राइस 20 लाख से 25 गुना ज्यादा बोली लगाते हुए 5 करोड़ में खरीदा

डिजिटल डेस्क, मुंबई। इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 12वें सीजन के लिए हुई नीलामी में मुंबई के ऑलराउंडर शिवम दुबे को रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB) ने उनकी बेस प्राइस 20 लाख से 25 गुना ज्यादा बोली लगाते हुए 5 करोड़ रुपए में खरीदा। यह वही शिवम दुबे हैं, जिन्होंने 17 दिसंबर को मुंबई के लिए रणजी ट्रोफी में लगातार 5 छक्के मारे थे। बड़ोदा के खिलाफ शिवम ने इस पारी के दौरान 59 गेंदों में 76 रन की तूफानी पारी खेली। उन्होंने अपनी इस पारी में दो चौके और 8 छक्के जमाए। इसमें से 5 छक्के उन्होंने बड़ोदा के बाएं हाथ के स्पिनर स्वप्निल सिंह की गेंदों पर लगातार लगाए। एक गेंद वह चूक गए, वर्ना छह गेंदों में छह छक्के का रिकॉर्ड बना देते।

रणजी ट्रॉफी के 6 मैचों में 550 रन बनाने वाले शिवम को क्रिकेटर बनाने का जुनून उनके पिता राजेश दुबे पर इस कदर सवार था कि उन्होंने बेटे के लिए अपनी बिल्डिंग के परिसर में ही एक प्रोफेशनल पिच बना डाली थी। शिवम कहते हैं, यह सफलता देखने के लिए मैंने दिन में 12 घंटे तक प्रैक्टिस की है। मैं सुबह 6:30 बजे प्रैक्टिस के लिए जाता था। सुबह 7:30 बजे से 9 बजे तक प्रैक्टिस करता था फिर 10 बजे से मैच खेलता था।

इसके बाद दोपहर 3:30 से दोबारा मेरी प्रैक्टिस शुरू होती थी। यह प्रैक्टिस शाम 5 बजे तक चलती थी। फिर एक घंटे ट्रेनिंग लेता था। इस तरह रात को लगभग 7:30 बजे से 8 बजे मैं घर पहुंचता था। जिस दिन बाहर प्रैक्टिस नहीं होती थी, तो मैं घर में बनी पिच पर ही प्रैक्टिस करता था। रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB) में इतनी बड़ी बोली मिलने के पीछे शिवम उनकी बड़ौदा के खिलाफ खेली गई पारी को बड़ा कारण मानते हैं। 

25 वर्ष के शिवम पहली बार तब चर्चा में आए थे, जब उन्होंने प्रवीण तांबे जैसे गेंदबाज के एक ओवर में 5 छक्के उड़ाए थे। उन्होंने यह कारनामा मुंबई टी-20 मैच के दौरान किया था। यह वही प्रवीण तांबे हैं, जिन्होंने 2005 में कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) के खिलाफ राजस्थान रॉयल्स की ओर से खेलते हुए हैटट्रिक जमाई थी। इस दौरान उन्होंने मनीष पांडे, यूसुफ पठान और रेयान टेन डिकॉस्टे (नीदरलैंड्स) जैसे दिग्गज बल्लेबाजों को आउट किया था।

लंबे-लंबे शॉट खेलने में माहिर शिवम दांए हाथ से बैटिंग करते हैं, जबकि बाएं हाथ से तेज गेंदबाजी करते हैं। उन्होंने अपने फर्स्ट क्लास करियर में 6 मैच खेले हैं। इस दौरान उन्होंने 11 पारियों में दो शतक और 4 अर्धशतक लगाए हैं और 22 विकेट भी लिए हैं। उनके इस रिकॉर्ड से पता चलता है कि विराट कोहली की कप्तानी वाली आरसीबी टीम ने क्यों उन्हें 25 गुना बोली लगाकर खरीदा है।   

कमेंट करें
c4reC