comScore

 जबलपुर. घायल हुई मादा टाइगर  शावक का 3 घंटे चला ऑपरेशन, जान बचाने पैर काटा

 जबलपुर. घायल हुई मादा टाइगर  शावक का 3 घंटे चला ऑपरेशन, जान बचाने पैर काटा

डिजिटली डेस्क जबलपुर । मंडला के कान्हा टाइगर रिजर्व में घायल हुई नन्ही मादा शावक की जान बचाने गुरुवार को उसका एक पैर काट दिया गया। जबलपुर के वाइल्डलाइफ इंस्टीट्यूट एंड रिसर्च सेंटर में 3 घंटे तक चले ऑपरेशन के बाद डॉक्टरों ने उसकी जान बचाने यह फैसला लिया। ऑपरेशन के बाद मादा शावक को फॉरेंसिक सेंटर में रखा गया है और विशेषज्ञ चिकित्सकों की पूरी टीम उसकी देखभाल में जुटी है। फिलहाल शावक की सर्जरी तो सफल रही है लेकिन वो कितनी जल्दी रिकवर करती है इस पर चिकित्सकों की निगाहें टिकी हुई हैं।
गौरतलब है कि कान्हा टाईगर रिजर्व के मुक्की परिक्षेत्र के घोरिल्ला बीट में करीब 6 माह की मादा शावक घायल हो गयी थी। विगत 26 अक्टूबर को मादा शावक को रेस्क्यू कर पहले मुक्की स्थित चिकित्सा केन्द्र लाया गया। वहां पर एक्सरे परीक्षण के बाद पाया गया कि उसके पैर में गहरे जख्म थे और उसके शरीर में जहर फैल रहा था। इस पर बेहतर इलाज के लिए शावक को बीते बुधवार को जबलपुर लाया गया। गुरुवार को नानाजी देशमुख पशु चिकित्सा विज्ञान विवि के स्कूल ऑफ वाईल्ड लाईफ फॉरेन्सिक एण्ड हेल्थ में वेटनरी कॉलेज के सर्जन डॉ. एमके भार्गव, पूर्व विभागाध्यक्ष डॉ. मधु स्वामी के नेतृत्व में सर्जरी टीम तैयार की गई। ऑपरेशन के दौरान टीम द्वारा शावक की जान बचाने उसके पिछले बांय पैर को काटा गया।
 

कमेंट करें
pf1jt