comScore

युवती से सरेराह की छेडखानी - शिकायत की तो चला दी गोली , थाने में मचा बवाल 

युवती से सरेराह की छेडखानी - शिकायत की तो चला दी गोली , थाने में मचा बवाल 

डिजिटल डेस्क, सतना। कोलगवां थाना क्षेत्र की जवान सिंह कालोनी में युवती से छेड़छाड़ का विरोध करने पर घर में घुसकर गोली चलाने की 2 वारदातों में घंटों चले हंगामे के बाद पुलिस ने देर रात 2 अलग-अलग मुकदमे दर्ज किए, तब जाकर पीड़ित पक्ष का गुस्सा ठंडा हुआ। 

पहले की छेड़खानी, फिर चलाई गोली

गौरतलब है कि 21 जुलाई की रात लगभग 11 बजे 22 वर्षीय युवती अपने चाचा के घर से खाना खाकर वापस आ रही थी, तभी नाले के पास आरोपी भइया खान और उसके भाई छोटू खान ने रास्ता रोककर हाथ पकड़ लिया, दोनों भाई अश्लील हरकत करने लगे। तब पीड़िता  ने शोर मचाया तो उसके परिजन समेत मोहल्ले-पड़ोस के लोग एकत्र हो गए, जिन्हें देखकर आरोपी मैदान की तरफ भाग निकले। दोनों भाइयों की करतूत की शिकायत लेकर युवती अपने चाचा के साथ थाने पहुंच गई। यह बात पता चलते ही आरोपी भइया खान ने कुछ गुर्गों के साथ महेश श्रीवास्तव 38 वर्ष के घर में घुसकर गाली-गलौच करते हुए कट्टे से फायर कर दिया। गनीमत रही कि गोली दीवार पर लगी और कोई जनहानि नहीं हुई। यह खबर तुरंत ही डायल 100 को दी गई तो पुलिस मौके पर गई और खोका जब्त कर लिया लेकिन पीडि़त पक्ष की शिकायत को मनगढ़ंत बताते हुए रिपोर्ट लिखने में आनाकानी करने लगे। इसके चलते बात बिगड़ गई और युवती समेत उसके घर वाले थाने में ही धरने पर बैठ गए, उधर आरोपी भइया के पक्ष से उसकी मां और बहन खुद को चोट पहुंचाकर थाने आ गई जहां उन्होंने प्रथम पक्ष के लोगों पर मारपीट का आरोप लगा दिया। जिस पर पुलिस उनकी तरफ से बयान दर्ज करने में लग गई। इस रवैये ने घी में आग डालने का काम किया।

और तब हुई कायमी 

मामला इतना बढ़ा कि रात 3 बजे आईजी चंचल शेखर से कोलगवां पुलिस की शिकायत कर दी गई, जिन्होंने एसपी रियाज इकबाल को उचित कार्रवाई के लिए निर्देश दिया। तब रात्रि गश्त पर आए मैहर एसडीओपी हेमंत शर्मा को थाने भेजा गया जिनकी समझाइश पर पीड़ित पक्ष ने धरना खत्म कर बयान दर्ज कराए। अंतत: युवती की शिकायत पर भइया व छोटू खान के खिलाफ धारा 354(क), 34 के तहत कायमी की गई तो फायरिंग के मामले में भइया खान के खिलाफ धारा 294, 506, 336 व 458 का मुकदमा पंजीबद्ध किया गया। उक्त आरोपी वारदात के बाद से ही फरार हो गया, जिसमें पुलिस की लापरवाही का बड़ा हाथ रहा। बताया गया है कि भइया के खिलाफ अलग-अलग थानों में एक दर्जन से ज्यादा अपराध दर्ज हैं।
 

कमेंट करें
NSiUw