comScore

मुंबई आतंकी हमले का मास्टरमाइंड हाफिज सईद गिरफ्तार, भेजा गया जेल

मुंबई आतंकी हमले का मास्टरमाइंड हाफिज सईद गिरफ्तार, भेजा गया जेल

हाईलाइट

  • लाहौर से गुजरांवाला जाते वक्त गिरफ्तार हुआ आतंकी हाफिज सईद
  • हाफिज सईद को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने ग्लोबल टेररिस्ट घोषित किया है

डिजिटल डेस्क, इस्लामाबाद। 26/11 मुंबई हमले के मास्टरमाइंड आतंकी हाफिज सईद को लाहौर से गिरफ्तार कर लिया गया है। गिरफ्तारी के बाद उसे न्यायिक हिरासत में भेजा गया है। हाफिज सईद लाहौर से गुजरांवाला जा रहा था। इसी दौरान पंजाब की काउंटर टेररिज्म डिपार्टमेंट ने उसे लाहौर से गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेज दिया। गिरफ्तारी के दौरान हाफिद सईद ने कहा, मैं अपनी गिरफ्तारी के खिलाफ कोर्ट जाऊंगा।

मुंबई आतंकी हमले के मामले में विशेष सरकारी वकील उज्ज्वल निकम ने कहा, पाकिस्तान दुनिया को बेवकूफ बना रहा है कि हाफिज को गिरफ्तार किया है, हमें यह देखना होगा कि वे कैसे अदालतों में सबूत पेश करते हैं और उसे दोषी ठहराने के प्रयास कैसे किए जाते हैं। नहीं तो यह एक नाटक है।

जानकारी के मुताबिक, 2009 में हुए टेरर फंडिंग के एक मामले में पंजाब पुलिस के आतंकवाद रोधी विभाग (CTD) ने उसे लाहौर से गिरफ्तार किया है। CTD ने हाफिज़ सईद समेत जमात-उद-दावा के 13 नेताओं के खिलाफ 23 मामले दर्ज किए थे। मामले दर्ज होने के बाद से इनकी गिरफ्तारी तेज हो गई थी।

इससे पहले सोमवार को लाहौर की आतंकवाद निरोधी अदालत (ATC) ने आतंकी हाफिज सईद और तीन अन्य को जमानत दे दी थी। यह फैसला मदरसे की भूमि को अवैध कार्यों के लिए इस्तेमाल किए जाने के एक मामले में लिया गया था।

दरअसल, पाकिस्तान को फाइनेंशियल ऐक्शन टास्क फोर्स (FATF) से ब्लैक लिस्ट होने का डर सता रहा है। आर्थिक रूप से खस्ता हाल पाकिस्तान किसी तरह की पाबंदी झेल पाने की स्थिति में नहीं है, इसलिए वह नहीं चाहते हुए भी आतंकियों पर कार्रवाई का दिखावा करने पर मजबूर है। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने जमात-उद-दावा के सरगना हाफिज सईद को ग्लोबल टेररिस्ट घोषित कर रखा है। अमेरिका भी उसे अपनी तरफ से वैश्विक आतंकी घोषित करते हुए उस पर 10 मिलियन डॉलर का इनाम रखा है। 

गौरतलब है कि, हाफिज सईद ने 26 नवंबर 2008 को मुंबई में हुए आतंकवादी हमले की साजिश रची थी। भारत ने उसके खिलाफ पाकिस्तान को कई सबूत भी दिए थे, लेकिन वह हाफिज पर ठोस कार्रवाई करने की बजाय सिर्फ दिखावा ही करता रहा। 

कमेंट करें
DSEQg